Amazing

Viral News : एक मां का बेटा 22 साल पहले हो गया था गुम, लौटने पर बना साधु, मां से ही मांगने लगा भिक्षा, भावुक हुए लोग

यह तो सोशल मीडिया पर कई सारे वीडियो आते रहते हैं लेकिन कुछ वीडियो ऐसे होते हैं जो सभी को इमोशनल कर जाते हैं। ऐसे ही एक वीडियो सामने आ रहा है जिसे देखने के बाद हर कोई अपनी आंखों से आंसू नहीं रोक पा रहा है।

दरअसल एक बच्चा 11 साल की उम्र में अपनी मां से बिछड गया था जिसके बाद वह 22 साल का होकर अपनी मां के पास लौट है लेकिन अब उसे मां का बेटा एक साधु बन गया है और उसने अपनी मां से भिक्षा मांगी है जैसे ही बेटे ने अपनी मां से भिक्षा मांगी वैसे ही मां भावुक होकर रोने लगी। यह लम्हा इंटरनेट पर जब से वायरल हुआ है तब से हर किसी की आंखों में आंसू आ गए हैं और हर कोई भावुक भी हो रहा है।

सोशल मीडिया पर इस बेहद भावुक कर देने वाले वीडियो को देखकर आपकी भी आंखों में आंसू आ जाएंगे।यह वीडियो 12 साल बाद मिले एक मां और बेटे की कहानी है जिसमें एक महिला एक साधु के बगल में बैठकर रो रही है और यह साधु उसका खोया हुआ बेटा है। वह अपनी मां से भिक्षा मांगने आया है और मां अपने बेटे को शायद आखरी बार ही देख भी रही है।

ये भी पढें  देसी जुगाड़ से बनी चारा काटने की मशीन, लोगों ने कहा,"यह टैलेंट नहीं जाना चाहिए इंडिया से बाहर"

इस घटना का वीडियो माइक्रोब्लॉगिंग साइट ‘एक्स’ पर शेयर किया गया है। इसके कैप्शन से पता चलता है कि ये मामला अमेठी का है। जानकारी के अनुसार योगी के वेश में मौजूद शख्स का नाम पिंकू है। उसके पिता रतिपाल सिंह ने बताया कि साल 2013 में उनका बेटा 11 साल की उम्र में अचानक लापता हो गया था। क्योंकि उसकी मां ने उसे कंचे खेलने पर डांट-फटकार लगा दी थी। जब बेटा नहीं मिला तो परिजनों ने उसकी खोज की। थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाई, लेकिन वह नहीं मिला।

2024 में पिंकू को अमेठी के खरौली गांव में एक साधु के रूप में देखा गया। जब उसने सभी से अपने माता-पिता के बारे में पूछा तो ग्रामीणों ने उसे पहचान लिया और इसके माता-पिता को भी इस बारे में बताया। गांव पहुंचे माता-पिता अपने बेटे को पहचान में सफल हुए और बाद में जो हुआ।उसके बाद यह वीडियो सोशल मीडिया पर छाया हुआ है।

ये भी पढें  Indigo Flight Seat: महिला फ्लाइट में चढ़ी तो सीट देखकर रह गई दंग, इंडिगो ने बताया क्यों नहीं थे सीट पर कुशन

22 साल के बाद गांव आया पिंकू अब एक साधु बन चुका है जो अपनी मां से भिक्षा मांगने आया क्योंकि धार्मिक संस्कारों के अनुसार एक तपस्वी को मठवासी जीवन के उच्च स्तर तक पहुंचने के लिए अपनी मां से भिक्षा प्राप्त करनी होती है। उसके बाद ही उसका तप संपूर्ण होता है। जब उसके माता-पिता और परिजनों ने उसे वापस नहीं जाने की मन्नतें की तो पिंकू ने बोला कि वह सांसारिक रिश्तों को त्याग करें कि जोगी बन चुका है जब मां ने उसे अपने पास रोकने के लिए भिक्षा देने से इनकार किया, तो उसने कहा कि वह पैत्रक घर के दरवाजे से मिट्टी लेकर चला जाएगा। घर वालों के काफी समझने के बाद भी पिंकू भिक्षा लेकर चला गया।

ये भी पढें  Scientists found Green Anaconda : वैज्ञानिकों को मिला ग्रीन एनाकोंडा, प्रजाति को देखकर डरे सभी, है सांपों की सबसे खतरनाक प्रजाति

सोशल मीडिया पर ये वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है और लोग इसे देखकर भावुक हो रहे हैं। एक यूजर ने लिखा- जीवन उद्देश्य खोजने के लिए अलग-अलग रास्ते अपनाता है। दूसरे शख्स ने लिखा- 11 साल की उम्र में गायब होना और अब संन्यासी बनकर आने के बाद मां की वेदना को शायद ही समझें। तीसरे यूजर ने कमेंट किया – भावुक और आंसू लाने वाला दृश्य, वैराग्य प्रेम और गृहस्थ प्रेम के बीच का द्वंद।