Entertainment

Arun Govil Character of Ram : रामायण में राम रोल करने के बाद नहीं मिला कही भी काम, अरुण गोविल ने खुद दर्द किया बया।

अरुण गोविल ने अपने एक इंटरव्यू में बताया कि राम के किरदार ने उन्हें रातों-रात ऊंचाइयों पर पहुंचा दिया था. लेकिन इसके बाद उन्हें 14 साल तक कोई काम नहीं मिला.अरुण गोविल ने 1987 में दूरदर्शन पर प्रसारित रामानंद सागर की रामायण में राम का किरदार निभाया था.

View this post on Instagram

A post shared by Arun Govil (@siyaramkijai)

साल 1987 में दूरदर्शन पर रामायण का प्रासरण शुरू हुआ तो पूरे देश ने भक्ति भाव से इसका स्वागत किया. इस सीरियल ने पूरे देश के हर शहर और हर गांव में धूम मचा दी थी. सीरियल की पापुलैरिटी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जब साल 2020 में लॉकडाउन हुआ और इसे फिर से टीवी पर दिखाया गया तो इसकी टीआरपी छप्परफाड़ थी. रामानंद सागर की रामायण में मुख्य किरदार निभाने वाले सभी एक्टर एक्ट्रेस की किस्मत रातों-रात बदल गई थी लेकिन राम का रोल करने वाले अरुण गोविल के करियर के लिए राम का किरदार बिल्कुल उल्टा साबित हुआ।

ये भी पढें  Anjali Arora New Viral Video :शॉर्ट पैंट में अंजली अरोड़ा ने ठंड की हवा फूलों के बेड पे रिल्स बना इमस्टाग्राम पे बढ़ाई गर्मी।

अरुण गोविल को भले इस सीरियल से काफी फेम मिला लेकिन सीरियल खत्म होने के बाद उन्हें काम का अकाल पड़ गया. इतना ही नहीं करीब 14 साल तक अरुण गोविल काम को तरसते रहे. अरुण गोविल ने खुद इस किस्से को शेयर किया था. बीते दिनों रामायण की स्टारकास्ट अरुण गोविल, दीपिका चिखलिया और सुनील लाहिड़ी कपिल शर्मा के शो में पहुंचे थे. अरुण गोविल ने बताया कि रामायण का सीरियल करने के बाद उन्हें 14 साल तक काम का इंतजार करना पड़ा लेकिन उन्हें कोई काम नहीं मिला।अरुण गोविल बताते हैं कि उन्होंने फिल्मों में बताओ हीरो अपने करियर की शुरुआत की थी लेकिन कुछ ही समय बाद मैंने टीवी पर काम करने का मन बनाया.

ये भी पढें  राम नवमी पर अयोध्या आ रहे श्राद्धालुओं से सत्तू लाने की अपील।

मुझे रामानंद सागर की तरफ से रामायण में राम का किरदार ऑफर किया गया. इस किरदार को लेकर मैं काफी खुश था. मुझे इस किरदार ने जिंदगी में सब दिया. जब रामायण बनकर तैयार हुई और प्रसारित होने लगी तो पूरे देश के लोग मुझे जानने लगे.

मैं रातों-रात स्टार बन गया. 1 नहीं बल्कि कई देशों से मेरे फैन्स मुझे चिट्ठियां लिखकर भेजने लगे. लेकिन अजीब बात हुई कि इस सीरियल के बाद मुझे कोई भी प्रोड्यूसर काम नहीं देना चाहता था. मैं जब भी प्रोड्यूसर से किसी रोल के लिए बात करता तो वो ये कहता कि आप तो भगवान राम हैं, आपकी छवि बहुत बड़ी है, हम आपको सपोर्टिंग रोल में कास्ट नहीं कर सकते. मैंने सोचा कि कुछ दिनों बाद ये बदल जाएगा. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. करीब 14 साल तक मैं काम के लिए तरसता रहा. लेकिन मुझे काम नहीं मिला