India NewsLatest NewsVideos

अरुण गोयल का इस्तीफा, अनूप चंद्र पांडेय रिटायर… क्या अगले हफ्ते चुनाव कार्यक्रम का अकेले ऐलान करेंगे CEC राजीव कुमार?

Lok Sabha Elections 2024: भारतीय चुनाव आयोग में तीन निर्वाचन आयुक्त होते हैं.हालांकि मौजूदा समय में दो आयुक्त पद खाली हो गए हैं. ऐसे में राजीव कुमार लोकसभा चुनाव का ऐलान अकेले भी कर सकते हैं.लोकसभा चुनाव 2024 का समय आ गया है.जून में मौजूदा केंद्र सरकार का कार्यकाल खत्म हो रहा है. इससे पहले चुनाव आयोग को पूरे देश में लोकसभा चुनाव कराने और 18वीं लोकसभा के प्रतिनिधियों का चयन करना है. ऐसे में किसी भी समय चुनाव आयोग चुनाव की तारीखों का ऐलान का कर सकता है. कहा जा रहा है कि अगले सप्ताह चुनाव की तारीख है बताई जा सकती है लेकिन अगर ऐसा होता है तो चुनाव आयुक्त को अकेले यह काम करना होगा. मौजूदा समय में राजीव कुमार चुनाव आयुक्त में अकेले चुनाव आयुक्त हैं.

आमतौर पर चुनाव आयोग में तीन चुनाव आयुक्त होते हैं, लेकिन दो चुनाव आयुक्त की जगह खाली है. अरुण गोयल के इस्तीफे और अनूप चंद्र पांडे के रिटायर होने के बाद से दो चुनाव आयुक्त की जगह खाली हो गई है. चुनाव आयोग में अनूप चंद पांडे के रिटायरमेंट के बाद फिलहाल मुख्य चुनाव आयुक्त के अलावा अरुण गोयल ही चुनाव आयुक्त के तौर पर काम देख रहे थे जबकि कमीशन में कुल तीन लोग होते हैं यानी इस स्थिति के बाद सिर्फ मुख्य चुनाव आयुक्त ही बचे हैं. इसी वजह से अगर आने वाले सप्ताह में लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होता है तो यह काम उन्हें अकेले ही करना होगा।

ये भी पढें  यूपी के लिए कांग्रेस के स्टार प्रचारकों की सूची जारी

नए चुनाव आयुक्त का चयन करने वाली समिति में प्रधानमंत्री एक कैबिनेट मंत्री और लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष शामिल होते हैं। यह समिति चुनाव आयुक्त के पद के नाम के लिए सिफारिश भी करती है। राष्ट्रपति इसी शिफारिश के आधार पर नए चुनाव आयुक्त का चयन करते हैं।चुनाव आयुक्त का कार्यकाल कल 6 साल का होता है मुख्य चुनाव आयुक्त की सेवानिवृत्ति की उम्र 65 साल और अन्य दो चुनाव आयुक्तों की सेवानिवृत्ति की उम्र 62 साल होती है.