Latest News

Bettiah News : कस्टम विभाग वालों ने गांव के ट्रैक्टर पर मारा छापा मिला कुछ ऐसा की सभी हो गए हैरान

Bettiah News : बिहार के बेतिया जिले में सिकटा गांव के पास बसे पुरैनिया गांव में एक घर के सामने 8 ट्रैक्टर खड़े थे. इसी बीच नेपाल सीमा पर तैनात सशस्त्र सीमा बल के साथ कस्टम विभाग के अधिकारी उसे गांव में पहुंचे तो वहां हंगामा मच गया। कस्टम विभाग ने आठ ट्रैक्टरों पर लगी सामग्री की तलाशी ली। यह सामग्री चीन से नेपाल के रास्ते बिहार ले जाए जा रही थी। इसके बाद जो हुआ जिसे देखकर हर कोई हैरान हो गया।आइये जानते हैं पूरा मामला…

चीन में निर्मित लहसुन नेपाल के रास्ते भारत के बाजारों में ले जाया जा रहा था तस्करी के इस खेल में अंतरराष्ट्रीय तस्करों का बड़ा नेटवर्क शामिल है। नेपाल सीमा पर तैनाश सशस्त्र सीमा बल के साथ कस्टम ने जब कार्यवाही की तो चीनी लहसुन की तस्करी का खुलासा सामने आया। एसएसबी की कार्रवाई में 8 ट्रैक्टर पर लगे 64 टन लहसुन को जब्त किया गया. इस कार्रवाई में तीन तस्करों की गिरफ्तारी भी हुई है. इन लोगों से जब पूछताछ की गई तो पता चला कि चीन से लहसुन की बड़ी खेप नेपाल पहुंच रही है और वहां से यूपी और बिहार के बाजारों तक पहुंच रही है. लहसुन को बड़े-बड़े शहरों तक पहुंचाया जा रहा है.

इंडो-नेपाल बॉर्डर से एकसाथ आठ ट्रैक्टर लहसुन नेपाल से इंडिया में कैसे आए, इस पर भी अब सवाल उठने लगे हैं. बताया जा रहा है कि एक ट्रैक्टर पर 50 लाख की कॉस्मेटिक सामग्री भी जप्त हुई है। कस्टम विभाग ने जिले के सिकटा थाना क्षेत्र के पुरैनिया गांव में छापेमारी की थी. यहां उन्होंने आठ ट्रैक्टर पर 64 टन चाइनीज लहसुन बरामद किया और एक ट्रैक्टर से पचास लाख का कॉस्मेटिक सामग्री बरामद की गई है. साथ में दो तस्करो कों भी एसएसबी ने गिरफ्तार किया गया है.

जानकरी देते हुए एसएसबी 47 वीं बटालियन के इंस्पेक्टर संजय कुमार शाह ने बताया कि गुप्त सूचना पर एसएसबी और कस्टम विभाग के अधिकारियों ने सिकटा गांव के पुरैनिया गांव में छापेमारी की. यहां बड़ी मात्रा में लहसुन और कॉस्मेटिक सामग्री बरामद की गई सभी ट्रैक्टर लहसुन कॉस्मेटिक सामग्री को मोतिहारी कस्टम विभाग को सौंप दिया गया है। मामले में अब कार्यवाही भी की जा रही है।

ये भी पढें  गौरव वल्लभ ने छोड़ी कांग्रेस,इस्तीफा देकर कहा 'सनातन विरोधी नारे नहीं लगा सकता.

नेपाल में लहसुन का भाव ₹100 है जो भारतीय बाजारों में करीब 350 रुपए तक बिक रहा है। इसी कारण नेपाल के रास्ते चीनी लहसुन का तस्करी जोरों पर है.कस्टम विभाग की कार्रवाई से हड़कंप मचा हुआ है.