Amazing

Poisonous Snakes : बेहद जहरीले सांपों में गिनती होती है इन सांपों की, केवल सोते हुए इंसानों को ही काटता है यह सांप

सांप को देखते ही हर किसी के डर के मारे रोंगटे खड़े हो जाते हैं। हर साल सांप के काटने के हजारों मामले सामने आते हैं। वहीं अगर राजस्थान की बात की जाए तो यहां करीब 350 तरह के सांप पाए जाते हैं जिसमें से चार सबसे खतरनाक सांप है। इनमें काेबरा, रसेल वाइपर, सॉ-स्केल्ड वाइपर, काॅमन करेत है। बारिश के दिनों सबसे ज्यादा कोबरा अपने बिलों से बाहर निकलते रहते हैं। सॉ-स्केल्ड वाइपर के अलावा शेष तीनों प्रजातियों के सांप घरों में निकलते हैं।कोबरा सिर्फ राजस्थान का नहीं बल्कि पूरे भारत में पाया जाने वाला सबसे जहरीला सांप है। इसका नाम सुनते ही हर कोई डर जाता है। हिंदू धर्म में तो इसकी पूजा भी की जाती है।इसके काटने से इंसान का बच पाना काफी मुश्किल होता है।

ये भी पढें  दूल्हे की कटी उंगलियां देख दुल्हन ने शादी से किया इनकार, मामला बिगड़ने पर बुलानी पड़ी पुलिस

भूरे रंग के रसेल वाइपर के शरीर पर काले रंग के गोल धब्बे होते हैं। इसके फुंफकारने की आवाज 10 से 20 फीट की दर से सुना जा सकता है। सॉ-स्केल्ड वाइपर की लंबाई छोटी होती है लेकिन इसकी फुर्ती, तेजी और आक्रामक वृत्ति इसे खतरनाक बना देती है। यह बेहद जहरीला सांप होता है इसके काटने से तकरीबन 5000 लोगों की हर साल मौत होती है।

काॅमन करेत सांप पतला और काले रंग का होता है। इसका रंग काला होता है काले रंग के साथ-साथ इसकी चमड़ी पर सफेद रंग की धारी भी होती है। करैत भी काफी जहरीला सांपों में से एक है। काॅमन करेत रात काे साेते हुए लाेगाें काे काटता है।

ये भी पढें  Weird News : लड़की ने सिर्फ 200 मी के लिए बुक की बाइक, लड़का आया एक किलोमीटर दूर से, लोग बोले 'बहुत पैसा है भाई!'

अगर आपको यह बात जाननी है कि आपको किसी जहरीले सांप ने काटा है तो आप इस तरह समझ सकते हैं-

सांप का जहर शरीर में जाने के बाद खून के थक्के जमने लगता हैं। साथ ही गला भी सूखने लगता है। प्यास खूब लगती है और इसके साथ ही नींद भी आने लगती है। जहां सांप काटता है वहां सुई के चुभने जैसा दर्द भी होता है और थोड़ा सा खून भी निकलता है।जहरीले सांप ने काटा है तो जरूर शेयर पर काटने के दो निशान भी होंगे।

सांप के काटने पर ये करें-

अगर सांप काट ले तो जिस जगह सांप ने काटा है, उसके पास एक चीरा लगा लें। साथ ही काटने की जगह के दोनों तरफ कसकर कपड़ा बांध लें। इससे जहर शरीर में नहीं फैलेगा। इसके बाद व्यक्ति को तुरंत अस्पताल ले जाना चाहिए।