ताज़ा खबरें

Jhunjhunu Latest News : एक कॉल और बदल गई महिला की पूरी जिंदगी, 8 करोड़ की हुई साइबर ठगी, मामला सुनकर पुलिस भी रह गई दंग

Jhunjhunu Latest News : राजस्थान के झुंझुनू जिले में पिलानी की एक महिला के पास एक कॉल आया महिला ने खुशी-खुशी फोन उठाया लेकिन अगले ही पल उसकी खुशियां बर्बाद हो गई। महिला ने पूरे तीन माह तक बेबसी और आंसू में गुजारे और जिंदगी नर्क बन गई. इस कॉल को उठाने की कीमत उसे 8 करोड रुपए देकर चुकानी पड़ी फिर भी जब दुखों से पीछा नहीं छूटा तो थकहार कर महिला ने पुलिस का दरवाजा खटखटाया लेकिन इस अजीबोगरीब मामले को सुनकर पुलिस भी हैरान हो गई लिए जानते हैं पूरा मामला

झुंझुनूं के पिलानी में फर्जी ईडी और मुंबई क्राइम ब्रांच के नाम पर बड़ी ठगी की वारदात हुई है. बताया जा रहा है कि 57 साल की यह महिला एक संस्थान में काम करती थी और तीन महीने में तो ने उसे 7 करोड़ 67 लाख रुपए तक लिए।अब यह मामला साइबर थाना झुंझुनू में दर्ज हो गया है। महिला ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है कि अक्टूबर 2023 में उसके पास एक कॉल आई। कॉलर ने बताया कि आधार कार्ड से एक और नंबर चालू है। उस नंबर से अवैधानिक विज्ञापन और उत्पीड़न के मैसेज किए जा रहे हैं, इसलिए आपके खिलाफ आईपीसी की धाराओं में मुंबई पुलिस कार्रवाई करेगी.

इसके बाद महिला के पास मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच से कॉल आया एक व्यक्ति ने खुद को मुंबई पुलिस का सी बताया और स्काइप के जरिये ऑनलाइन मीटिंग के लिए कहा. इसके बाद उस युवक ने कहा कि ‘इस महिला की मुश्किलें बढ गई हैं क्योंकि एक मनी लॉ​न्ड्रिंग केस में 20 लाख का लेन-देन में नाम आ गया है. मामला अब ईडी के पास पहुंच गया है.’ ठगों ने अलग-अलग तरीके से डराकर अक्टूबर 2023 से 31 जनवरी 2024 तक महिला के पास से 7 करोड़ 67 लाख रुपये अपने खातों में डलवा लिए.

पीड़ित महिला लगातार उन्हें पैसे देती रही यही नहीं उसे अपनी गिरफ्तारी का इतना डर हो गया था कि उसने अपने जीवन भर के पैसे ठगों को दे दिए, बल्कि बैंकों से लोन लेकर भी 80 लाख रुपये ठगों को ही दे दिए. ठग उसे मनी लॉन्ड्रिंग का केस सुप्रीम कोर्ट में हल होने और डिजिटल वेरिफिकेशन होने के बाद पैसा वापस लौटाने की बात भी कहते रहे. कुल 42 ट्रांजेक्शन हुए.

ये भी पढें  बिहार-बंगाल में '24' की हुंकार भरेंगे PM मोदी

ठगों ने कहा कि पैसा वापस लौटने की अंतिम तारीख 12 फरवरी 2024 है लेकिन 15 फरवरी तक आरोपियों से कोई संपर्क नहीं हुआ तो महिला एकदम डर गई तब जाकर उसने अपनी आप बीती अपने साथियों को बताई. झुंझुनूं साइबर थाना प्रभारी डीएसपी हरिराम सोनी ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज जांच शुरू कर दी है. इस मामले में मुंबई निवासी संदीप राव, आकाश कुलहरि और एक अन्य के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दी गई है. मुकदमा दर्ज करवाने के बाद महिला न तो किसी से बात कर रही है और न ही किसी के सामने आ रही है.