साड़ी पहनने के कारण महिला को दिल्ली के रेस्टोरेंट में नहीं मिली एंट्री, लोगों का फूटा गुस्सा

दिल्ली के एक रेस्टोरेंट में महिला को साड़ी पहनने पर रेस्टोरेंट में एंट्री नहीं देने की बात अब तूल पकड़ लिया है. इस मामले को रिचा चड्डा ने भी अपने सोशल मीडिया पर शेयर किया और जमकर खरी-खोटी सुनाई.

बता दें कि दिल्ली के पॉश इलाके में स्थित एक रेस्टोरेंट में एक महिला को इसलिए एंट्री नहीं दिया गया क्योंकि वह साड़ी पहन के आई थी . उस महिला ने रेस्टोरेंट में काम करने वाले एक वर्कर से पूछा कि क्या यहां पर साड़ी पहनने वालों को एंट्री नहीं मिलेगी. कर्मचारी जवाब देता है कि साड़ी को स्मार्ट कैजुअल के रूप में नहीं गिना जाता है। होटल केवल स्मार्ट कैजुअल की अनुमति देता है

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तब लोगों ने जमकर इस वीडियो पर अपना गुस्सा जाहिर किया.इस वीडियो क्लिप में सुनाई पड़ रहा है कि जब महिला की एंट्री रोकी जाती है तब वो रेस्टोरेंट के कर्मचारियों से इसको लिखित में देने के लिए कहती है। उनकी ओर से यह कहा जाता है कि आप लिख कर दें कि यहां साड़ी पहनकर आने की अनुमति नहीं है।

इस वीडियो को अपने ट्विटर पर शेयर करते हुए एक यूजर शेफाली वैद्य ने लिखा है कि, कौन तय करता है कि साड़ी ‘स्मार्ट वियर’ नहीं है? मैंने यूएस, यूएई के साथ-साथ यूके के सबसे अच्छे रेस्तरां में साड़ी पहनी है। मुझे किसी ने नहीं रोका। कुछ अक्विला रेस्टोरेंट भारत में एक ड्रेस कोड निर्धारित करते हैं और तय करते हैं कि साड़ी स्मार्ट कैजुअल नहीं है। विचित्र है यह।

वहीं एक यूजर ने लिखा है कि स्मार्ट परिधान क्या है। ईसाई-मुस्लिम देशों में भी साड़ी पर ऐसा बैन नहीं, भारत में ऐसी मानसिकता क्यों। वहीं रेस्टोरेंट की रेटिंग को लेकर भी सवाल खड़े किए गए हैं। कुछ ने लिखा है फरमान ऐसा और रेटिंग ऐसी।

Twitter

वहीं अनिता चौधरी ने इस वीडियो को ट्वीट करते हुए गृह मंत्री अमित शाह और महिला आयोग को भी टैग करते हुए पूछा है कि क्या साड़ी पहनना छोड़ देना चाहिए।

वहीं कई लोगों ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर यहां तक भी लिखा है कि इस रेस्टोरेंट का बहिष्कार किया जाना चाहिए. बता दे की रातों-रात इस रेस्टोरेंट का रेटिंग काफी ज्यादा गिर गया है.

Facebook Comments Box