ना कोई था, ना कोई है सहवाग कैसे बने मुल्तान के सुल्तान

Credit - instagram

नजफगढ़ के नवाब’ वीरेंद्र सहवाग दुनिया के सबसे आक्रामक सलामी बल्लेबाजों में से एक हैं

भारत के पूर्व तूफानी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग अपने मस्ती भरे ट्वीट की वजह से सुर्खियों में रहते हैं

रक्षाबंधन के मौके पर भी उन्होंने एक मजाकेदार ट्वीट किया। इस ट्वीट में वह अपनी दोनों बहनें अंजू और मंजू से राखी बंधवा रहे हैं

वीरू ने फोटो शेयर करते हुए लिखा- अपनी प्यारी बहन 'अंजू जी' और 'मंजू जी' के साथ हाफ गंजू रक्षा बंधन का त्यौहार मना रहा हूं

जब सहवाग ने खुद को गंजा कहा है। इससे पहली पिछली रक्षाबंधन को भी उन्होंने इसी अंदाज में ट्वीट किया था

कहा जा सकता है कि उन्होंने टेस्ट क्रिकेट को बेखौफ खेलना सिखाया

मुल्तान में पाकिस्तान के खिलाफ उनकी 309 रनों की पारी का खास महत्व है

वनडे स्टाइल में टेस्ट क्रिकेट खेलने की अपनी छवि से पूरी दुनिया को अवगत कराया

वीरेंद्र सहवाग ने वह तिहरा शतक 2004 में बनाया था जब भारतीय टीम ने तीन टेस्ट और पांच वनडे के लिए पाकिस्तान का दौरा किया था

दौरे की शुरुआत मुल्तान से हुई। जहां टेस्ट सीरीज का पहला मैच खेला गया। उस मैच में, सौरव गांगुली की अनुपस्थिति में

उनके बल्ले से चार शतक लगे। वीरेंद्र सहवाग पाकिस्तान के खिलाफ मैचों में शोएब अख्तर की गेंदों पर काफी ध्यान देते थे

वह दो तिहरे शतक लगाने वाले टीम इंडिया के इकलौते खिलाड़ी हैं

वीरेंद्र सहवाग के करियर की बात करें तो उन्होंने अपने करियर में 104 टेस्ट, 251 वनडे और 19 टी20 मैच खेले हैं

और इनके बारे में जानने के लिए यहां क्लिक करें 👇

Next :- Hina Khan ने कराई बोल्ड फोटोशूट