SHO ने महिला कांस्टेबल से मांगा एक रात का साथ, बोला- मैं तुम्हें बहुत चाहता हूं, मेरे सामने यूं ही…

जालोर जिले के भीनमाल थाने के थाना प्रभारी दुलीचंद गुर्जर पर एक महिला आरक्षक ने गंभीर आरोप लगाए हैं. महिला कांस्टेबल का कहना है कि एसएचओ ने उससे एक रात का सहयोग मांगा. महिला कांस्टेबल ने भीनमाल सीओ को लिखित शिकायत में भी इन आरोपों को दोहराया है। सीआई दुलीचंद पहले भी कई मामलों में विवादित रहे हैं। इन मामलों की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक ने पुलिस निरीक्षक दुलीचंद को लाइन में खड़ा कर दिया है.

जानकारी के मुताबिक महिला कांस्टेबल ने लिखित बयान में कहा था कि पुलिस अधिकारी ने चेंबर में फोन किया और कहा कि एक रात मुझे इसे सौंपना होगा. पीड़ित महिला आरक्षक ने करीब डेढ़ माह पूर्व तत्कालीन उपायुक्त को लिखित शिकायत में ये सनसनीखेज आरोप लगाए थे. पीड़िता का कहना है कि 17-18 अप्रैल 2021 को वह सीआई के चैंबर में चार्जशीट साइन कराने गई थी।

चार्जशीट साइड में रखकर तू मेरे सामने वाली कुर्सी पर बैठ जा.
वहां सीआई साहब ने उनसे कहा कि चार्जशीट साइड में रखकर आप मेरे सामने वाली कुर्सी पर बैठ जाएं. सीआई ने पूछा कि मैं आपसे एक बात पूछना चाहता हूं। मैं तुम्हें बहुत ज्यादा चाहता हूं। एक रात तुम्हें मुझे सौंपना होगा। महिला निरीक्षक ने कहा कि उसने बाहर आकर हेड कांस्टेबल तेजाराम और एएसआई प्रेम सिंह को भी यह बात बताई थी. लेकिन उसने बदनामी की बात कहकर उसे चुप करा दिया।

sho mahila constable
jalore police

सट्टेबाजी की कार्रवाई में हेराफेरी का बड़ा मामला भी सामने आया
उसके बाद जालौर के एसपी हर्षवर्धन अग्रवाल ने बुधवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए पुलिस अधिकारी दुलीचंद गुर्जर समेत छह पुलिसकर्मियों को लाइन में खड़ा कर दिया. महिला आरक्षक से एक रात की मांग जैसी कई गंभीर शिकायतों से एसएचओ दुलीचंद जहां घिरे रहे। वहीं, मंगलवार रात सट्टे की कार्रवाई में हेराफेरी का एक बड़ा मामला भी सामने आया. उसके बाद पुलिस अधीक्षक ने पुलिस अधिकारी दुलीचंद के साथ एएसआई कल्याण सिंह, कांस्टेबल प्रकाश, ओमप्रकाश, रामलाल और श्रवण कुमार समेत 6 लोगों को लाइन में लगाया है.

सट्टे में फंसी बड़ी रकम, देखे कुछ हजार

एसएचओ दुलीचंद लंबे समय से भीनमाल थाने में कार्यरत है। महिला कांस्टेबल ने उन पर पहले भी गंभीर आरोप लगाए हैं। शिकायत की जांच तत्कालीन डीएसपी ने की तो थाने में एक रात मांगने का मामला सामने आया। इसकी विभागीय जांच चल रही है। वहीं, शिकायत मिली थी कि मंगलवार रात 1 बजे पुलिस ने देलवाड़ा सरहद में जुआरियों के खिलाफ कार्रवाई की है. इसमें बड़ी रकम मिलने के बाद कार्रवाई करने वाली टीम ने रकम कम बताई।

काफी समय से थीं शिकायत
जालौर के पुलिस अधीक्षक हर्षवर्धन अग्रवाल ने कहा कि दुलीचंद के खिलाफ कई मामलों को लेकर लंबे समय से शिकायतें मिल रही थीं. महिला कांस्टेबल से जुड़े मामले में जांच जारी है। इस बारे में ज्यादा कुछ नहीं कह सकता।

Facebook Comments Box