सिलबट्टे बेचने वाली महिला बनी सब-इंस्पेक्टर ? IPS ने शेयर की कहानी, सामने आई असली सच्चाई

Copy

कहते हैं न जहां चाह है वहां राह है। व्यक्ति के अंदर अगर सच्ची लगन और कुछ कर दिखाने का जज्बा हो तो लाख मुसीबतों का सामना करने के बाद उसे मंजिल मिल ही जाती है। इसी संदर्भ में एक सच्ची प्रेरणात्मक कहानी आज आपसे साझा करने जा रहे हैं। यह कहानी है पुलिस सब इंस्पेक्टर पद्मशीला तिरपुड़े की। पद्मशीला तिरपुड़े एक समय में सिलबट्टे बेचकर अपना घर परिवार चलाती थी। इनकी जिंदगी काफी संघर्षमय रही है। उनके संघर्ष की कहानी अभी कुछ दिन पहले आईपीएस अधिकारी दीपांशु काबड़ा ने सोशल मीडिया पर उनकी एक तस्वीर के साथ साझा किया है।

इस कहानी में बताया गया है कि पद्मशीला तिरपुड़े ने किन मुश्किल परिस्थितियों का सामना कर अपनी मंजिल हासिल की है। एक बातचीत के दौरान उन्होंने बताया था कि शुरुआत के दिनों में उनकी आर्थिक स्थिति बहुत खराब थी, लेकिन फिर भी उनके पति ने उनकी पढ़ाई में कमी नहीं आने दी।

पद्मशीला तिरपुड़े बहुत मेहनती थी। वह अपने पति के साथ खूब मेहनत करती थी और दिन रात पढ़ाई में लगी रहती थी। उनकी मेहनत और धैर्य के कारण ही आज वह इस ऊंचाई तक पहुंच चुकी है। पद्मशीला ने ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करने के बाद एमपीएसई परीक्षा में सफलता हासिल की। जिसके बाद वह पुलिस उपनिरीक्षक के पद पर नियुक्त हो गई।

जबकि पद्मशीला तिरपुड़े ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया है कि भले ही उन्हें पुलिस इंस्पेक्टर बनने में बहुत मुसीबतों का सामना करना पड़ा, लेकिन उन्होंने सिलबट्टे बेचने का काम नहीं किया। जो तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है उसमें सिलबट्टी बेचने वाली औरत की शक्ल काफी मिलती-जुलती है, इसी वजह से लोग कंफ्यूज हो गए हैं।

Facebook Comments Box