History

मुगलों के वंशज ने कर दिया ये दमदार ऐलान, कहा- अगर अयोध्या में राम मंदिर बना तो..

मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म कर ऐतिहासिक फैसला लिया। इस फैसले का पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने जमकर विरोध किया। पाकिस्तान ही नहीं, भारत में भी उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती, राहुल गांधी जैसे दिग्गज नेताओं ने भारतीय जनता पार्टी सरकार के फैसले का विरोध किया। इसके बावजूद मोदी सरकार ने अनुच्छेद 370 खत्म कर इतिहास रच दिया। इसके पहले भी भारत मे तीन तलाक कानून बनाकर सरकार ने मुस्लिम महिलाओं को उनका हक दिया।

मुगल वंशज प्रिंस हबीबुद्दीन तूसी ने अयोध्या में राम मंदिर को लेकर दी बड़ी चुनौती

अनुच्छेद 370 खत्म करने के बाद अब मोदी सरकार के लिए सबसे बड़ी चुनौती है |अयोध्या मामले का निपटारा करना। सालों से चले आ रहे इस मामले पर अब मुगल वंशज प्रिंस हबीबुद्दीन तूसी ने भी चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट राम जन्मभूमि की जमीन उन्हें सौंप दी। साथ ही उन्होंने यह दावा भी किया कि वहीं इस भूमि के असली हकदार हैं। क्योंकि वह पहले मुगल शासक बाबर के वंशज हैं, जिसने बाबरी मस्जिद बनवायी थी।

अगर अयोध्या में राम मंदिर बना तो… पूरी जमीन राम मंदिर के लिए दान कर दूंगा

मुगल वंशज ने दमदार ऐलान करते हुए कहा कि अगर अयोध्या में राम मंदिर बना तो वह उसके लिए सोने की ईंट देंगे। उन्होंने आगे कहा,”मैं लोगों की भावनाओं का सम्मान करता हूँ और यह मानता हूँ कि अयोध्या की उस जगह पर पहले राम मंदिर ही था। मैंने यह तय किया है कि मैं यह पूरी जमीन राम मंदिर के लिए दान कर दूंगा।”

इसे भी पढ़े : –

Most Popular

To Top