Politics

कभी सोनिया के राजनैतिक गुरु रहे नेता के बेटे ने थामा भाजपा का दामन,कांग्रेस को झटका

Advertisement

चुनाव के इस सियासी माहौल में सभी राजनीतिक पार्टियां एक से बढ़कर एक प्रदर्शन करते नजर आ रहे हैं। जहां आपको बता दें कि कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी के करीबी माने जाने वाले और कभी उनके गुरु कहलाने वाले जनार्दन दिवेदी के बेटे ने अब भाजपा का दामन थाम लिया है।

जनार्दन द्विवेदी के बेटे समीर द्विवेदी के भाजपा में शामिल होने से कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। हालांकि यह देखा जा रहा था कि पिछले कई सालों से जनार्दन दि्वेदी भी कांग्रेस से नाराज चल रहे थे।

कभी एक दौर था जब जनार्दन दि्वेदी को सोनिया गांधी का सबसे करीबी माना जाता था। रिश्तों में खटास आने की सबसे बड़ी वजह मानी जाती है जब सोनिया गांधी के करीबी लोगों में अहमद पटेल ग्रुप की एंट्री हुई उसके बाद धीरे-धीरे जनार्दन द्विवेदी राजनीति के किनारे हो गए।

यह भी पढ़ें-  why BJPs oldest ally Akali Dal walks out of NDA | 9 दिन में क्यों छूट गया अकाली दल का NDA से 22 साल का साथ, INSIDE STORY

पिछले दिनों जनार्दन द्विवेदी ने कांग्रेस आलाकमान को लेकर बयान भी दिया, जिसके बाद वह विषय काफी चर्चा में रहा।

आज समीर द्विवेदी को भाजपा महासचिव अरुण सिंह ने भगवा पार्टी में उन्हें पार्टी ज्वाइन करवाया। समीर द्विवेदी के पिता जनार्दन दि्वेदी कभी कांग्रेस के सबसे ताकतवर महासचिवो में शुमार थे।

इतना ही नहीं सोनिया गांधी को राजनैतिक गुर सिखाने वाले जनार्दन दि्वेदी ही थे, लेकिन कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद और अन्य नेताओं की करीबी के कारण जनार्दन दिवेदी हाशिए पर चले गए।

पार्टी में शामिल होने के बाद समीर द्विवेदी ने कहा कि “मैं पहली बार किसी राजनीतिक पार्टी में शामिल हो रहा हूं। मैंने प्रधानमंत्री को चुना, क्योंकि उनके द्वारा किए गए कार्यों से बहुत प्रेरित हूं”।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग न्यूज़

To Top