‘इस्लाम में संगीत हराम है’, ये कहकर म्यूजिक इंडस्ट्री को अलविदा कह गया सिंगर

Copy

हैदराबादी रैपर रूहान अर्शद ने चौकाने वाला ऐलान किया है । रूहान ने music इंडस्ट्री को अलविदा कहने का फैसला इसलिए लिया है क्यूंकि इस्लाम इसकी इजाज़त नहीं देता । उनके इस फैसले से फैंस काफी हैरान परेशान हैं। 2018 में ‘मिया भाई’ रैप सॉन्ग से तहलका मचाने वाले रुहान ने यह तक कह दिया कि इस्लाम में संगीत को हराम बताया गया है इसलिए मै अब और ऐसे परफॉर्मेंस नहीं दूंगा ।

इस्लाम में संगीत हराम है', ये कहकर म्यूजिक इंडस्ट्री को अलविदा कह गया सिंगर  - Rashtra Bhakt News
ruhan arshad

तोड़ दिया करोड़ों फैंस का दिल

अर्शद के इस फैसले ने उनके फैंस का दिल ही तोड़ दिया ।आपको बता दें रुहान के यूट्यूब चैनल ‘रुहान अर्शद ऑफिशियल’ पर 2.34 मिलियन (करीब 23 लाख) सब्सक्राइबर्स हैं। और ये सब उनके गाने सुनना पसंद करते हैं । पर अर्शद ने संगीत को हराम बताया और कहा कि अब वो केवल हलाल करेंगे । वो आगे कहते हैं कि चूंकि मेरा मुसिक में पैशन था , इस वजह से मै यहां तक आया पर अब मै और रैप सॉन्ग नहीं करूंगा।

धार्मिक होने से कई गुना अच्छा लॉजिकल होना होता है । ऐसे में अगर अर्शद लॉजिकली सोचते तो मूसिक को कभी हराम नहीं कहते । अर्शद यहीं नहीं रुके उन्होंने तो अपने फैंस को भी मुसीक को अलविदा कहने की सलाह दे दी। वो कहते हैं इस्लाम इसकी इजाज़त नहीं देता । हालांकि फैंस को सांत्वना देते हुए अर्शद ने यह भी कहा कि वे बस मूसीक इंडस्ट्री को अलविदा कह रहे हैं , पर यूट्यूब पे वे बने रहेंगे ।

Facebook Comments Box