सिद्धार्थ शुक्ला का गम अभी कम भी नही हुआ, कि एक और सितारा खो गया।

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार को आज सुबह 11.44 पर हार्ट अटैक के बाद आईसीयू में भर्ती कराया गया. उनका बेंगलूरु के विक्रम अस्पताल के आईसीयू वार्ड में इलाज चल रहा था. जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. बताया जा रहा है कि वो आज सुबह जिम में कसरत करने गए थे, जहां वर्जिश के दौरान ही उन्हें दिल का दौरा पड़ गया. उन्हें अस्पताल लेकर जाया गया लेकिन उनकी हालत देखकर डॉक्टरों के होश उड़ गए. खबरों के मुताबिक उनके भाई शिवराजकुमार और यश भी वहीं पर जिम कर रहे थे.

वीरप्पन ने राजकुमार का किया था अपहरण, कई दिनों के बाद हुई थी रिहाई

खबर सुनते ही अस्पताल के बाहर सैंकड़ों फैंस का हूजूम इकट्ठा हो गया. जिसे कंट्रोल करने के लिए पुलिस के अतिरिक्त इंतजाम करने पड़े. राज्य भर से उनके फैंस का अस्पताल के बाहर और उनके घर के बाहर पहुंचने का सिलसिला जारी है. जिसे देखते हुए बेंगलुरू शहर को हाई अलर्ट पर रख दिया गया है. गुस्से में फैंस तोड़फोड़ कर सकते हैं. पुलिस कमिश्नर और दूसरे बड़े अधिकारी अस्पताल पहुंचे हैं.

जिम करने गए थे एक्टर-

एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, एक्टर राजकुमार को सुबह 11:30 बजे सीने में दर्द की शिकायत के बाद भर्ती कराया गया था. उनके इलाज करने की पुरी कोशिश की जा रही थी. उनकी हालत गंभीर थी. विक्रम अस्पताल के डॉ. रंगनाथ नायक ने कहा था, अस्पताल ले जाने पर उनकी हालत खराब थी. पुनीत राजकुमार 46 वर्ष के थे. वो वेटरने एक्टर राजकुमार के बेटे थे. पुनीत को आखिरी बार ‘yuvarathnaa’ में देखा गया था. इस फिल्म को साल की शुरुआत में रिलीज किया था.

उन्होंने सुबह साढ़े सात बजे अपना आखिर ट्वीट किया था. फिल्म बजरंगी 2 की पूरी कास्ट को बधाई दी थी. पुनीत ने अश्विनी रेवंत से 1 दिसंबर 1991 को चिक्कमगलुरु में शादी की थी. एक्टर अपनी पत्नी से पहली बार एक कॉमन फ्रेंड के जरिए मिले थे. उनकी दो बेटी द्रिथि और वंदित्था हैं. पुनीत कर्नाटक मिल्क फेडरेशन प्रोडक्ट्स, मालाबार गोल्ड, मणिपुरम, एफ-स्क्वायर, डिक्सी स्कॉट, इंडियन प्रीमियर क्रिकेट टीम रॉयल चैलेंजर्स के ब्रांड एंबेसडर थे. पुनीत के पास प्रीमियर फुटबॉल बेंगलुरु5 की टीम भी है. एक्टर पीआरके ऑडियो संगती लेबल के संस्थापक और मालिक थे जिसके यूट्यूब पर 10 लाख से अधिक यूजर्स हैं.

Punit Rajkumar

पुनीत के पिता Singanalluru Puttaswamaiah Muthuraj को डॉ. राजकुमार के नाम से जाना जाता था. वो कन्नड सिनेमा में फेमस अभिनेता और गायक थे. एक्टर ने कई सुपरहिट फिल्मों में अभिनय किया था. 1953 में एक्टर ने पर्वतम्ना से शादी की थी. उनके पांच बच्चे थे.

30 जुलाई 2002 को राजकुमार और उनके दामाद गोविंदराजू और दो अन्य को वीरप्पन ने गजनूर में अभिनेता के घर से अपहरण कर लिया था. वीरप्पन ने अपने गिरोह के सदस्य के रिहाई की मांग की जो एक आंतकविरोधी कानून के तहत जेल में बंद था. इस घटना से कर्नाटक की राजनीति पर भी असर पड़ा. सुप्रीम कोर्ट ने तमिल नाडु सरकार को जिम्मेदार ठहराया था और राजकुमार को सुरक्षा नहीं देने के लिए फटकार लगाई थी. हालांकि तमिल नाडु सरकार ने एक साल पहली ही वीरप्पन द्वारा अपहरण किए जाने के खतरे के बारे में बताया था.

वीरप्पन को पकड़ने के लिए एसआईटी का गठन हुआ था. बाद में उनके बेटे राघवेंद्र ने स्वीकार किया था कि उनके पिता ने खतरे को गंभीरता ने नहीं लिया था. 108 दिन के कैद के बाद राजकुमार को 15 नवंबर को छोड़ दिया गया था. उनके अपहरण और जिस तरह से उनकी रिहाई हुई आज भी एक रहस्य बनी हुई है.

पुनीत को फैंस प्यार से अप्पा बुलाते थे. उन्होंने 29 से ज्यादा कन्नड़ फिल्मों में काम किया था. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट की थी और बेस्ट चाइल्ड आर्टिस्ट का अवॉर्ड मिला था. एक्टर को अभी, वीरा कन्नडिगा, अजय, अरासु, राम, हुडुगारु और अनजनी पुत्र जैसी फिल्मों के लिए जाना जाता है.

Facebook Comments Box