देश

देशद्रोह में पकड़े गए शर्जील इमाम ने किए चौंकाने वाले खुलासे

Advertisement

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में आपत्तिजनक भाषण देने वाले आरोपी इमाम ने पूछताछ के दौरान कई बड़े खुलासे किए हैं। जिसमें पकड़े गए इमाम ने बताया कि जिस तरह साउथ और हैदराबाद में ओवैसी बंधुओं मुसलमानों के बड़े नेता हैं उसी तरह मैं भी उत्तर भारत में बनना चाहता हूं, और उनके भाषण से मैं बेहद ही प्रेरित हूं।

इसीलिए मैं उनकी तरह ही ऐसी भाषणों से अपनी तरफ लोगों को आकर्षित करना चाहता था। आपको बता दें कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में आपत्तिजनक भाषण देने वाले आरोपी ने पूछताछ के दौरान कई बड़े खुलासे किए हैं। देशद्रोही इमाम ने बताया कि जिस तरह और हैदराबाद में मुसलमानों के बड़े नेता है उसी तरह का नेता उत्तर भारत में बनना चाहता हूं और मैं भी भड़काऊ भाषण देना चाहता हूं।

अपने भाषण से लोगों को अपनी और आकर्षित करना चाहता था। उनके लिए उनके जैसा ही बड़ा काम ही करना चाहता हूं इसलिए मैंने ऐसा काम किया। पुलिस ने उसका वह मोबाइल फोन भी बरामद कर लिया है जिसमें ओवैसी बंधुओं और अकरम उद्दीन ओवैसी के हर वह भाषण है जो उनकी को आकर्षित कर रहे हैं। मोबाइल में कई ऐसे लोगों की नंबर क्राइम ब्रांच को मिले हैं जिनके संबंध प्रतिबंधित संगठन सिमी से है।

यह भी पढ़ें-  CM अमरिंदर सिंह का बेतुका बयान, 'मेरा ट्रैक्टर है, मैं फूंकना चाहता हूं, आप क्या करोगे?'

दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को उसके मोबाइल को उसके घर बिहार से बरामद कर लिया है। जिससे दिल्ली लाया जा रहा है। गुरुवार को पुलिस ने दावा किया है कि वह कट्टरपंथी है और उसका मानना है कि भारत को इस्लामिक स्टेट बना देना चाहिए। उसे अपनी गिरफ्तारी का कोई पछतावा नहीं है। पुलिस सूत्रों ने गुरुवार को दावा किया कि वह भी आरोपी है और वह जब जामिया नगर में भाषण देने गया तब पीएफआई के लोगों ने उससे संपर्क किया था। पुलिस इमाम के बैंक खातों को खंगाल रही है बैंक खाते में कितना पैसा है और उसके पास कहां से पैसा आता था यह सब पुलिस छानबीन कर रही है।

यह भी पढ़ें-  Manali Paraglider Pilot shares experience with PM Modi in 1997 | PM मोदी ने 27 पहले मनाली की वादियों में की थी पैराग्लाइडिंग, पायलट ने बताया कहानी

उसकी भाषण रिकॉर्ड करता था और सोशल मीडिया पर कौन डालता था इसके लिए क्या इमाम ने कोई टीम बना रखी है। यह जांच अधिकारियों की मानें तो बहुत ही बड़ा कटर है वह इस इरादे से भाषण देता था किसी के विरोध में देश के सभी हाईवे जाम कर दिया जाए देश में चक्का जाम कर दिया जाए जिस देश में अफरा-तफरी मच जाए। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि जेएनयू का शोध छात्र इमाम की एक खास विचारधारा के प्रति खासा झुकाव है.

वह पाक के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना के सिद्धांत के अलावा प्रसिद्ध कवि मोहम्मद इकबाल के विचारों से खास प्रेरित है। जबकि मुसलमान मुद्दे पर अच्छी खासी कट्टर सोच रखता है उसके इस तरह के विचार वाले लेख कई अंग्रेजी अखबार में प्रकाशित हुई हो चुके हैं। इमाम के पिता और चाचा बिहार में चुनाव लड़ चुके हैं लेकिन उसकी मंशा उत्तर भारत में मुसलमानों का बड़ा नेता बनने को है।

यह भी पढ़ें-  Hearing today in freeing Varanasi's Kashi Vishwanath temple from illegal occupation |मथुरा के बाद काशी पर भी कानूनी लड़ाई तेज, आज वाराणसी में होगी इस मुद्दे पर सुनवाई

सीएए के विरोध में जगह-जगह मुस्लिम समुदाय द्वारा किए जा रहे हैं विरोध प्रदर्शन के दौरान उसे एक बड़ा मौका मिल गया। ज्यादा लोकप्रिय होने के चक्कर में उसने सभा में भड़काऊ भाषण देने शुरू कर दिए थे। गिरफ्तारी के वक्त पुलिस को उसके पास से दो मोबाइल में रहते हैं लेकिन मुख्य मोबाइल बरामद नहीं हुआ था।

वह मुख्य मोबाइल से ही अपने दोस्तों और नज़दीकियों को फोन करता था। क्राइम ब्रांच की टीम को शुक्रवार स्थित उसके घर से बरामद कर लिया है।इसके बाद दिल्ली सहित अन्य पांच राज्यों में उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। बाद में क्राइम ब्रांच ने स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर उसे उसे गांव से गिरफ्तार कर लिया था।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग न्यूज़

To Top