रंक को भी राजा बनाने कि शक्ति रखते है शनि देव, उनको खुश करने के लिए ये है आसान उपाय…

Copy

कहा जाता है सभी ग्रहों में सबसे क्रूर ग्रह शनि देव है। जिसने शनि देव (Shani Dev) को खुश कर लिया उसने जिंदगी के हर दुख से पार पा लिया। शनि देव को खुश करना बेहद ही आसान है। इसके लिए ज्‍योतिष में कुछ प्रभावी उपाय (Effective Remedies) बताए गए हैं। ज्न्हे करने से कुछ ही दिन में शनि अच्‍छे फल देने लगते हैं।

ज्‍योतिष के अनुसार सभी 9 ग्रहों में शनि देव को सबसे क्रूर और अहम माना गया है। शनि देव ऐसे देवता हैं जो कर्मों के मुताबिक फल देते हैं। यदि व्‍यक्ति के कर्म अच्‍छे हों तो शनि की महादशा में भी उसे अच्‍छे फल मिल सकते हैं, वरना शनि की नजर राजा को भी रंक बना देती है। वहीं शनि प्रसन्‍न हो जाएं तो कंगाल को भी राजा बना देते हैं।

कहा जाता है जिस जातक पर शनि देव की कुदृष्टि पड़ जाए उस जातक को मानसिक, शारीरिक, आर्थिक हर तरह की परेशानियां झेलनी पड़ती हैं। कुल मिलाकर कहा जाये तो जिंदगी कष्‍टों से भर जाती है। लिहाजा शनि को प्रसन्‍न रखना बहुत जरूरी है। इसके लिए शनि देव को समर्पित शनिवार को वो काम करने से बचना चाहिए जो उन्‍हें नाराज कर सकते हैं। जैसे- बाल कटवाना, काली चीजें खरीदना, तेल या नमक खरीदना, किसी विकलांग व्‍यक्ति का अपमान करना आदि।

शनि देव को प्रसन्‍न करने के उपाय:-

  • शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए शनिवार को मंदिर में पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं। साथ ही, सरसों
    के तेल का दीपक जलाएं।
  • इसके अलावा शनिवार के दिन कौवों को काले गुलाब जामुन भी खिलाने चाहिए।
  • साथ ही, शनिवार को शनि चालिसा का पाठ करना भी बहुत लाभदायक होता है।शनिवार को
    बजरंगबलि की पूजा करें।
  • इसके अलावा शनिवार को काले रंग की चीजों का भी दान करना चाहिए। जैसे-काली तिल, काले
    कपड़े, लोहे की चीजें आदि। दान की ये चीजें शनिवार को छोड़कर किसी अन्‍य दिन खरीद लें और
    फिर शनिवार इन चीजों को दान करना चाहिए।
  • प्रत्येक शनिवार को काले कुत्ते को रोटी में सरसों का तेल लगाकर भी खिलाना चाहिए।
  • इन सब के अलावा शनिवार को एक कटोरी में सरसों का तेल लेकर उसमें अपना चेहरा देखें। फिर
    उस तेल और कटोरे को किसी जरूरतमंद को दान कर दें या शनि मंदिर में रख आएं।इस तरह किया
    गया छाया दान शनि के प्रकोप से बचाता है।
Facebook Comments Box