Shalini Pandey Birthday Special : घरवालों के खिलाफ जाकर अभिनेत्री बनी थीं शालिनी, पहली हिट के बाद ऐसी थी पिता की प्रतिक्रिया

Click here to read in English 👈

रणवीर सिंह की फिल्म ‘जयेशभाई जोरदार’ से बॉलीवुड में डेब्यू करने वाली एक्ट्रेस शालिनी पांडे को आज किसी पहचान की जरूरत नहीं है. 23 सितंबर 1994 को मध्य प्रदेश के जबलपुर में जन्मी शालिनी पांडे ने अपने करियर की शुरुआत तेलुगु फिल्म ‘अर्जुन रेड्डी‘ से की थी। फिल्म में विजय देवरकोंडा के साथ नजर आईं शालिनी पांडे ने लाखों लोगों का दिल जीत लिया। आज एक्ट्रेस के जन्मदिन के मौके पर हम आपको उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ बातें बताने जा रहे हैं।

Shalini Pandey Birthday Special
पिता बनना चाहते थे इंजीनियर

पिता बनना चाहते थे इंजीनियर

शालिनी पांडे ने अपनी पूरी शिक्षा मध्य प्रदेश से पूरी की है। अपनी कक्षा की सबसे होनहार छात्राओं में से एक शालिनी पांडे ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है। हालांकि शालिनी पांडे इंजीनियर नहीं बनना चाहती थीं, लेकिन पिता की इच्छा के मुताबिक उन्होंने आर्ट्स की जगह साइंस स्ट्रीम ली और इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। इतना ही नहीं शालिनी के पिता को उनकी फिल्में करना पसंद नहीं था। वह चाहते थे कि शालिनी पांडे अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करे और एक आईटी कंपनी में काम करे।

शालिनी पांडे का हाल ही का इंस्टाग्राम पोस्ट 👈

शालिनी पांडे ने अपनी प्राथमिक शिक्षा क्राइस्ट चर्च गर्ल्स हायर सेकेंडरी स्कूल जबलपुर से पूरी की। स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद, उन्होंने ग्लोबल इंजीनियरिंग कॉलेज, जबलपुर से सीएसई में बीटेक किया।

शालिनी पांडे ने 2018 में ‘महानती’, 2019 में 118 और 2020 में ‘इद्दारी लोकम ओकाटे’ सहित कई अन्य तेलुगु फिल्मों में अभिनय किया है। साल 2018 में शालिनी पांडे ने तमिल फिल्म इंडस्ट्री में फिल्म ‘नदिगैयार थिलागम’ से एंट्री की थी। इसके बाद उन्होंने 2019 में ‘गोरिल्ला’ और ‘100% कधल’ जैसी तमिल फिल्मों में काम किया।