Sawan Shaniwar : सावन का चौथा शनिवार इन 3 राशियों के लिए बेहद खास, शनिदेव की बरसेगी कृपा

शनिदेव की बरसेगी कृपा सावन का चौथा शनिवार इन चार राशियों के लिए बेहद खास.. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सावन के चौथे शनिवार में इन चार राशियों पर बरसेगी शनिदेव के महिमा. सावन का ये महीना बहुत ही पावन और उत्तम माना जाता है ये महीना देवो के देव महादेव का माना जाता है इस महीने में भगवान शिव जी की पूजा- उपासना की जाती है ये माना जाता है की इस महीने में इनकी पूजा करने से इनकी कृपा दृष्टि बनी रहती है.

Sawan Shaniwar
सावन का चौथा शनिवार इन 3 राशियों के लिए बेहद खास

इनकी पूजा अर्चना इस महीने में पौराणिक मान्यता मानी जाती है ऐसा माना जाता है की इस सावन मास में शिव जी की पूजा करने से वो जल्दी प्रसन्न हो जाते है और वो अपनी दया दृष्टि बना के रखते है और अपने भक्त जनो के इच्छाओं को जल्दी पूरा करते है और सावन का ये खास महीना शनिदेव के लिए भी खास मानी जाती है सावन मास के शनिवार दिन को शनिदेव की पूजा करने से शनिदेव की दृष्टि उनके भक्तो पर बनी रहती है ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस सावन का चौथा शनिवार 6 अगस्त को पर रहा है ये चौथा शनिवार तीन राशियों वाले के लिए खास माना जा रहा है सावन का चौथा शनिवार इन तीन राशियों वाले के लिए होंगे खास….

तुला : ज्योतिष शास्त्र के अनुसार तुला राशि पर शनिदेव के अधिक महिमा बनी रहती है जबकि ज्योतिष शास्त्र गणना में तुला राशि में शनिदेव उच्च के होते है जिसके कारण भक्तो की हर इच्छाएं और ख़ुशी प्रदान होती है साथ है में शनिदेव की दया दृष्टि बनी रहने के कारन भाग्य का भी साथ मिलता है सावन मास के शनिवार को शनिदेव की पूजा करने से विशेष लाभ भी मिल सकते है.

कुंभ : ज्योतिष शास्त्र के अनुशार सावन मास के चौथे शनिवार को शनिदेव की पूजा करने से शनिदेव प्रस्सन होते है और कुंभ राशि के स्वामी शनिदेव को माना जाता है इस वक्त मकर राशि में मौजूद है और मकर राशि में प्रवेश करते है राशि पर साढ़ेसाती चलने लगती है और इस साढ़ेसाती का बुरा प्रभाव पड़ता है जो की बहुत ही कम समय के लिए रहता है सावन के चौथे शनिवार में शनिदेव की पूजा करने से उन्हें खुस करने से साढ़ेसाती का प्रभाव कम होने की संभावना रहती है.

मकर : ज्योतिष शास्त्र अनुसार मकर राशि के भी स्वामी शनिदेव को ही माना जाता है और इस राशि वालो को भी पूजा करने के माध्यम से शनिदेव को खुश करना पड़ता है और अगर शास्त्रों की माने तो शनिदेव की प्रिये राशि मकर राशि ही है और यही कारन है की मकर राशि वाल ईमानदार, और, मेहनती, लगनशील, उत्साहीत होते है यही मेहनत और उत्साह से अपने जीवन में सफलता अर्जित करते है साथ ही में शनिदेव की कृपा से इस राशि के लोग भाग्यसाली होते है माना जाता है की मकर राशि पर शनिदेव का बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है मकर राशि वालो को सावन का चौथा सोमवार करने से शनिदेव की महिमा और कृपा मानी जाती है ऐसे में सावन का चौथा शनिवार खास माना जाता है.