Sapna Chaudhary Fraud Case: सपना चौधरी की मुश्किलें बढ़ीं, कोर्ट ने तय किए आरोप, ये है पूरा मामला

रिपोर्ट के अनुसार सपना चौधरी और अन्य कलाकारों को 13 अक्टूबर 2018 में स्मृति उपवन में सपना चौधरी का कार्यक्रम था जो रात्रि 10:00 बजे से होना था, जिसके लिए प्रति व्यक्ति ₹300 लिए गए थे और यह टिकट ऑनलाइन और ऑफलाइन बेचा गया था. लेकिन इसको लेकर लखनऊ के अपर मुख्य न्यायिक अधिकारी सपना चौधरी पर धोखाधड़ी का आरोप लगा रहे हैं. अब मामले की सुनवाई 12 दिसंबर को होगी. अभियोजन पक्ष के अनुसार अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी शांतनु त्यागी ने शुक्रवार को सपना चौधरी और चार अन्य आरोपियों जुनैद अहमद, इवाद अली, अमित पांडेय व रत्नाकर उपाध्याय के खिलाफ भारतीय दंड संहिता 406 (किसी के विश्वास का आपराधिक हनन) और 420 (धोखाधड़ी) के तहत आरोप तय किए हैं. 

Sapna Choudhary is in trouble, has to go to court
सपना चौधरी पड़ गई है मुश्किलों में

शुक्रवार को अदालत के सामने सपना चौधरी और सभी अभियुक्त मौजूद रहेंगे. इस मामले में सब इंस्पेक्टर फिरोज खान ने 14 अक्टूबर 2018 को आशियाना में एफ आई आर दर्ज की थी.प्राथमिकी के मुताबिक टिकट धारकों को टिकट के पैसे भी वापस नहीं किए गए. इससे पहले सपना चौधरी के खिलाफ उत्तर प्रदेश के लखनऊ में अरेस्ट वारंट भी जारी हुआ था. यह वारंट एसीजेएम कोर्ट की तरफ से जारी किया गया था. कोर्ट ने सपना चौधरी को सम्मन भेजा था.इस केस में साल 2019 के 20 जनवरी को आयोजक जुनैद अहमद, इवाद अली, रत्‍नाकर उपाध्‍याय और अमित पांडेय के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया था.

Sapna Choudhary haryanvi dance