बुरा फसें समीर वानखेड़े : शिकार करते हुए खुद ही शिकार हो गए समीर वानखेडे

Copy

आर्यन खान ड्रग्स केस की जांच नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े नहीं करेंगे. इस मामले की जांच की जिम्मेदारी दिल्ली एनसीबी को दे डी गई है. आर्यन खान ड्रग्स केस के साथ 5 अन्य मामलों की जांच दिल्ली एनसीबी की टीम करेगी. इसकी जानकारी एनसीबी के साउथ-वेस्टर्न रीजन के डिप्टी डीजी मुथा अशोक जैन ने दी. उन्होंने बताया कि हमारे जोन के आर्यन खान सहित कुल 6 केसों की जांच अब दिल्ली की टीम करेगी. इसे लेकर समीर वानखेड़े की पहली प्रतिक्रिया आई है.

समीर वानखेड़े ने कहा, “मुझे जांच से नहीं हटाया गया है. अदालत में मेरी रिट याचिका थी कि मामले की जांच किसी केंद्रीय एजेंसी से कराई जाए. आर्यन खान और समीर खान मामले की जांच दिल्ली एनसीबी की एसआईटी कर रही है. यह दिल्ली और मुंबई की एनसीबी टीमों के बीच को-ऑर्डिनेशन है.” बता दें कि समीर खान महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक के दामाद हैं, जिनके केस की जांच भी समीर वानखेड़े कर रहे थे. आर्यन खान की गिरफ्तारी के बाद एनसीपी नेता नवाब मलिक ने वानखेड़े पर वसूली सहित कई आरोप लगाए थे.

Drugs Case

समीर वानखेड़े को केसों से हटाए जाने को लेकर नसीपी नेता नवाब मलिक ने ट्वीट किया. उन्होंने कहा, “समीर वानखेड़े से आर्यन खान केस के साथ पांच और केस वापस ले लिए गए हैं. ऐसे 26 केस हैं, जिनकी जांच की जरुरत है. यह तो बस शुरुआत है… इस सिस्टम को साफ करने के लिए अभी बहुत कुछ करने की जरुरत है और हम यह करेंगे.”

समीर वानखेड़े पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा है. मुंबई क्रूज़ ड्रग्स मामले में आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा समेत अन्य को एनसीबी ने 2 अक्टूबर की रात हिरासत में लिया था और अगले ही दिन गिरफ्तार कर लिया था. बाद में इस मामले को लेकर नवाब मलिक ने एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े पर कई तरह के आरोपों के साथ वसूली के भी आरोप लगाए हैं. इसे लेकर एनसीबी की विजिलेंस टीम जांच भी कर रही है.

Facebook Comments Box