बोलीं स्वरा भास्कर- हिन्दू होने पर हूं शर्मिंदा, नमाज पढ़ते लोगों के सामने ‘जयश्री राम’ के नारे पर जताया गुस्सा

Copy

दिल्ली से सटे गुरुग्राम में नमाज पढ़ रहे लोगों को कुछ हिन्दूवादी संगठनों के परेशान किए जाने पर एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. 22 अक्टूबर को जब कुछ लोग एक निजी संपत्ति पर जुमे की नमाज अदा कर रहे थे तो कुछ लोगों ने जय श्रीराम के नारे लगाते हुए मुस्लिमों को नमाज पढ़ने से रोकने की कोशिश की.हालांकि पुलिसबल ने उनको रोक दिया। घटना का वीडियो ट्विटर पर शेयर करते हुए स्वरा भास्कर ने इस पर सख्त एतराज जताते हुए कि इसको देखकर उनको बतौर हिन्दू शर्मिंदगी हो रही है। इस पर उनको सोशल मीडिया पर कई तरह की प्रतिक्रियाओं का सामना करना पड़ रहा है.

निजी संपत्ति पर नमाज पढ़ रहे थे लोग-

गुरुग्राम के सेक्‍टर 12 में एक निजी संपत्ति पर मुस्लिम लोग नमाज अदा कर रहे थे.तभी कथित तौर पर बजरंग दल कार्यकर्ता वहां पहुंच गए और मुस्लिमों को खुले में नमाज ना पढ़ने के लिए कहने लगे.इन लोगों ने ‘जय श्री राम’ के नारे लगाने शुरू कर दिए। ये लोग संपत्ति के मालिक की इजाजत से शांतिपूर्ण तरीके से नमाज अदा कर रहे थे. ऐसे में पुलिस ने हिन्दूवादी संगठननों के लोगों को रोक दिया.हालांकि ये लोग तब तक लगातार नारेबाजी करते रहे जब तक कि नमाज पूरी नहीं हो गई.इसी को लेकर एक ट्वीट करते हुए स्वरा ने लिखा- ‘हिंदू होने पर शर्मिन्दा हूं’.

swara Bhaskar

सोशल मीडिया पर चर्चा में स्वरा का कमेंट-

स्वरा भास्कर का ये ट्वीट सोशल मीडिया पर काफी चर्चा में है. शुक्रवार को तो वो इस ट्वीट को लेकर ट्रेंड में भी आ गईं. स्वरा के इस ट्वीट पर दोनों तरह की प्रतिक्रियाएं आई हैं.कुछ लोगों ने स्वरा को हिम्मत दिखाकर इस घटना का विरोध करने पर शाबासी दी है.वहीं कई लोगों ने उनको इस ट्वीट के लिए हिन्दू विरोधी कहते हुए निशाना साधा है.कई लोगों ने तो उनको हिन्दू धर्म छोड़ देने तक की बात कह दी है.

बेबाकी से बोलने के लिए जानी जाती हैं स्वरा-

स्वरा भास्कर ने बतौर अभिनेत्री तो पहचान बनाई ही है। एक्टिविस्ट के तौर पर भी उनकी पहचान है। कई आंदोलन में अक्सर उनको देखा जाता है। सोशल मीडिया पर भी वो खुलकर अपनी बात रखती हैं। उनको सेक्युलर और जनहित के मुद्दों पर अक्सर ही बोलते देखा जाता है। राजनीति में भी स्वरा दिलचस्पी रखती हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में स्वरा ने दिल्ली, मध्य प्रदेश और बिहार में कई सीटों पर अलग-अलग पार्टियों के लिए चुनाव प्रचार भी किया था।

Facebook Comments Box