RBI MPC Meeting : क्या और महंगा होगा लोन, कमर तोड़ महंगाई से निपटने के लिए क्या करेगा RBI

अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने बुधवार रात ब्याज दरें बढ़ा दी हैं। यूएस फेड ने ब्याज दरों को 0.75 प्रतिशत बढ़ाकर 4 प्रतिशत कर दिया है। इस बीच, RBI ने गुरुवार को मौद्रिक नीति समिति (RBI MPC) की एक अतिरिक्त बैठक बुलाई है। आपके होम लोन की EMI जल्द ही बढ़ सकती है। इतना ही नहीं सभी तरह के कर्ज पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी की उम्मीद है।

RBI MPC Meeting
क्या और महंगा होगा लोन, कमर तोड़ महंगाई से निपटने के लिए क्या करेगा RBI

दरअसल, भारतीय रिजर्व बैंक आज प्रमुख ब्याज दरों में बढ़ोतरी का फैसला कर सकता है। इस बैठक में RBI का रेट फिक्सिंग पैनल भी होगा। इस बैठक में सरकार को RBI की प्रतिक्रिया पर चर्चा हो सकती है। RBI सरकार को जवाब देगा कि वह महंगाई दर को 6 फीसदी पर रखने में नाकाम क्यों रही। साथ ही माना जा रहा है कि RBI भी रेपो रेट बढ़ाने का फैसला ले सकता है। फेड के ब्याज दरें बढ़ाने के फैसले के बाद अब इसकी संभावना बढ़ गई है।

इसे भी पढ़ें..  अगर आपके पास है 5 Rupee का नोट तो घर बैठे मिलेंगे 2 लाख रुपये, यहां जानिए तरीका

RBI के रेट सेटिंग पैनल की आखिरी बैठक 28-30 सितंबर 2022 को हुई थी। यह बैठक आखिरी बार इस कैलेंडर वर्ष में 5-7 दिसंबर को होगी। RBI एमपीसी की आखिरी विशेष बैठक साल 2016 में हुई थी। RBI ने कहा, ‘भारतीय रिजर्व बैंक अधिनियम, 1934 की धारा 45जेडएन के प्रावधानों के तहत MPC की एक अतिरिक्त बैठक 3 नवंबर, 2022 को निर्धारित की जा रही है।’

माना जा रहा है कि RBI इस बैठक में भी रेपो रेट बढ़ा सकता है। रेपो रेट बढ़ने से सभी तरह के कर्ज महंगे हो जाएंगे। रेपो रेट वह दर है जिस पर बैंक RBI से कर्ज लेते हैं। जब बैंक महंगे कर्ज लेते हैं, तो वे ग्राहकों को महंगा कर्ज भी देते हैं। हालांकि, इससे FD और RD जैसी जमाओं पर ब्याज दरें भी बढ़ जाती हैं।

सरकार ने केंद्रीय बैंक को महंगाई दर चार फीसदी (दो फीसदी कम या ज्यादा) रखने का लक्ष्य दिया है. लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद RBI महंगाई को छह फीसदी के दायरे में रखने में नाकाम रहा है. RBI अधिनियम की यह धारा बताती है कि मुद्रास्फीति को निर्धारित सीमा के भीतर रखने में विफलता के लिए केंद्रीय बैंक सरकार के प्रति जवाबदेह है। इस साल जनवरी से महंगाई लगातार छह फीसदी से ऊपर रही है. इस प्रकार RBI लगातार तीन तिमाहियों से अपने मुद्रास्फीति लक्ष्य को प्राप्त करने में विफल रहा है। इसलिए वैधानिक प्रावधानों के मुताबिक उन्हें इस पर सरकार को रिपोर्ट देनी होगी.

इसे भी पढ़ें..  शमिता शेट्टी का छलका दर्द, कहा – निशांत भट्ट ने मेरे साथ की थी गंदी हरकत

महंगाई पर काबू पाने के लिए केंद्रीय बैंक नीतिगत ब्याज दरें बढ़ा रहे हैं। सितंबर महीने में खुदरा महंगाई में बढ़ोतरी दर्ज की गई थी। सितंबर में देश की खुदरा महंगाई दर बढ़कर 7.41 फीसदी हो गई। जबकि इससे पहले अगस्त में खुदरा महंगाई दर 7.0 फीसदी और इससे पहले जुलाई में खुदरा महंगाई दर 6.71 फीसदी थी. महंगाई को काबू में रखने के लिए RBI पर दबाव बढ़ रहा है।

Manisha Koirala ने साझा की अपने पहले फोटोशूट की तस्वीर देखिए अब कितना बदल गया है लुक Asha Negi ने कराया कातिलाना फोटोशूट लोग बोले- बुड्ढी हो गई Srinidhi Shetty मिस मैरियोनियल से KGF मूवी तक का सफर काफ़ी दिलचस्प रहा Akshara Singh का ये लुक देखते ही पापा हुए गुस्सा से आग – बबूला Sakshi singh Rawat Dhoni की पत्नी किसी हीरोइन से कम नहीं
Manisha Koirala ने साझा की अपने पहले फोटोशूट की तस्वीर देखिए अब कितना बदल गया है लुक Asha Negi ने कराया कातिलाना फोटोशूट लोग बोले- बुड्ढी हो गई Srinidhi Shetty मिस मैरियोनियल से KGF मूवी तक का सफर काफ़ी दिलचस्प रहा Akshara Singh का ये लुक देखते ही पापा हुए गुस्सा से आग – बबूला Sakshi singh Rawat Dhoni की पत्नी किसी हीरोइन से कम नहीं