Rate of Interest : महंगा हुआ बैंक ऑफ बड़ौदा का कर्ज, जानिए किस बैंक ने कितनी बढ़ाई ब्याज दरें

रिजर्व बैंक द्वारा रेपो दरों में वृद्धि के बाद से बैंक लगातार अपनी उधार दरों में वृद्धि कर रहे हैं। अब इसी कड़ी में बैंक ऑफ बड़ौदा का नाम भी जुड़ गया है। बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB) ने विभिन्न अवधि के ऋणों के लिए मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स (MCLR) आधारित उधार दर में 0.20 प्रतिशत की वृद्धि की घोषणा की है। नई दरें 12 अगस्त से प्रभावी होंगी। बैंक ने बुधवार को शेयर बाजार को भेजी सूचना में कहा कि उसने MCLR दर में बढ़ोतरी को मंजूरी दे दी है. यह 12 अगस्त से प्रभावी होगा।

Rate of Interest
महंगा हुआ बैंक ऑफ बड़ौदा का कर्ज

जानिए कितनी बढ़ी है ब्याज दरें
बैंक की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक एक साल की अवधि के लिए बेंचमार्क MCLR को 7.65 फीसदी से बढ़ाकर 7.70 फीसदी कर दिया गया है. अधिकांश उपभोक्ता ऋण ब्याज दरें इसी आधार पर तय की जाती हैं।एक महीने की अवधि वाले ऋणों के लिए MCLR 0.20 प्रतिशत बढ़ाकर 7.40 प्रतिशत कर दिया गया है। वहीं, तीन महीने और छह महीने की अवधि वाले ऋणों के लिए MCLR 0.10 प्रतिशत बढ़ाकर क्रमश: 7.45 प्रतिशत और 7.55 प्रतिशत करने का निर्णय लिया गया है. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने पिछले हफ्ते प्रमुख नीतिगत दर रेपो में 0.50 प्रतिशत की बढ़ोतरी की। इसके बाद कई बैंकों ने अपनी ब्याज दरें बढ़ा दी हैं।

हाल ही का ट्वीट :-

और बैंकों ने क्यों बढ़ाई दरें
दो दिन पहले ICICI बैंक और PNB ने भी लेंडिंग रेट में बढ़ोतरी की है। ICICI बैंक ने एक अधिसूचना में कहा कि ICICI बैंक बाहरी मानक उधार दर (आई-ईबीएलआर) को RBI की नीतिगत दर के लिए संदर्भित किया जाता है। आई-ईबीएलआर 9.10 प्रतिशत प्रति वर्ष और प्रति माह देय है, बैंक ने कहा। दरों में वृद्धि 5 अगस्त से प्रभावी हो गई है। सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक ने भी दर में वृद्धि की जानकारी दी और कहा, RBI द्वारा रेपो दर में वृद्धि के बाद, रेपो संबंधित उधार दर (आरएलएलआर) में भी वृद्धि हुई है। 7.40 प्रतिशत से बढ़ाकर 7.90 प्रतिशत कर दिया गया है जो 8 अगस्त 2022 से प्रभावी होगा।