प्रियंका गांधी को बड़ा झटका UP चुनाव से पहले दो बड़े नेता ने कांग्रेस को दिया धोखा।

एक तरफ उत्तर प्रदेश में जहाँ सभी पार्टियां चुनाव की तैयारी में लगी हुई है वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस भी रोज नए-नए हथकंडे अपना रहा है. प्रियंका गाँधी को इस बार चुनाव का नया चेहरा बनाया गया है. चुनाव की तैयारी के बीच कांग्रेस को एक बड़ा झटका लगा है.

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। प्रदेश उपाध्यक्ष पंकज मलिक और उनके पिता हरेंद्र मलिक ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। हरेंद्र मलिक जो पूर्व में सांसद रह चुके हैं वह प्रियंका गांधी वाड्रा की सलाहकार समिति के सदस्य भी है। इससे पहले पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष ललितेश पति त्रिपाठी ने भी पार्टी छोड़ दी थी और पंकज मलिक पार्टी छोड़ने वाले दूसरे उपाध्यक्ष हैं।

सपा में हो सकते हैं शामिल
पंकज मलिक पहले विधायक रह चुके हैं। उन्होंने मीडिया को एक पत्र जारी किया, जो उन्होंने राज्य कांग्रेस अध्यक्ष को भेजा है, जिसमें उन्होंने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। मुजफ्फरनगर में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक ने भी पार्टी छोड़ने के अपने फैसले की घोषणा की। उन्होंने कहा कि अभी तक किसी अन्य राजनीतिक दल में शामिल होने का फैसला नहीं किया है। खबरों के मुताबिक पिता-पुत्र समाजवादी पार्टी की ओर बढ़ रहे हैं।

प्रियंका ने किया था ऐलान
दोनों नेताओं ने ऐसे समय में पार्टी को अलविदा कहा है कि जब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने घोषणा की कि कांग्रेस आने वाले यूपी विधानसभा चुनावों में महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट देगी। वाड्रा ने मंगलवार को यहां एक पत्रकार वार्ता में कहा, ‘आज मैं पहले वादे के बारे में बात करने जा रही हूं। हमने तय किया है कि उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी 40 फीसदी टिकट महिलाओं को देगी।’