6 बजे तक की खबरें :राजनाथ ने युद्ध स्मारक का किया उदघाटन,कांग्रेस नेता बल बलकार मलिक पर बदमाशों ने किया हमला…

  1. राजनाथ ने रेजांग ला में किया युद्ध स्मारक का उदघाटन, यहाँ भारतीय सैनिकों ने आखिरी सांस तक किया था मुकाबला
sainikon

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज पूर्वी लद्दाख के रेजांग ला में एक पुनर्निर्मित युद्ध स्मारक का उद्घाटन किया, जहां भारतीय सैनिकों ने 1962 में चीनी सैनिकों का बहादुरी से मुकाबला किया था। राजनाथ सिंह ने स्मारक को भारतीय सेना द्वारा प्रदर्शित दृढ़ संकल्प और अदम्य साहस का एक उदाहरण बताया। उन्होंने कहा कि यह न केवल इतिहास के पन्नों में अमर है, बल्कि हमारे दिलों में भी धड़कता है।

2. कांग्रेस नेता बल बलकार मलिक पर बदमाशों ने पानीपत में किया हमला,वारदात सीसीटीवी में कैद

congress neta

पानीपत अनाजमंडी में बदमाशों ने कांग्रेसी नेता बलकार मलिक पर डंडों से हमला बोल दिया। उन्हें बुरी तरह से पीटा गया। वह बुधवार सुबह अपनी आढ़त पर गए थे,  तभी बदमाशों ने हमला किया। इसके बाद वे जान से मारने की धमकी देते हुए भाग गए।

3. जौनपुर में भैया-भाभी ने दो सगी बहनों की हत्या की, शौचालय निर्माण को लेकर फावड़े से बोला हमला

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में डबल मर्डर यानी दोहरा हत्याकांड की घटना सामने आई है। विवादित जमीन पर शौचालय बनाने को लेकर चचेरे भैया-भाभी ने दो सगी बहनों की धारदार हथियार से वारकर हत्या कर दी। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस महकमें में हलचल मच गई है। मौके पर पुलिस बल भी पहुंच गया है। मृतकाओं के भाई ने तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने आरोपी पति-पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है।

4. लिस्टिंग के पहले दिन पेटीएम के शेयर 27 फीसदी तक टूटे, निवेशकों को हुआ भारी नुकसान

paytm

डिजिटल भुगतान सेवा प्रदान करने वाली दिग्गज कंपनी पेटीएम की पेरेंट कंपनी वन 97 कम्युनिकेशन के शेयर लिस्टिंग के पहले दिन लुढ़क गए। इसके चलते निवेशकों की चिंता बढ़ गई। लिस्ट होने के बाद 2,150 रुपये के इश्यू प्राइस की तुलना में इसका शेयर पहले दिन 27 फीसदी टूटा और यह 1,560 रुपये पर आ गया। यानी निवेशकों को आईपीओ इश्यू प्राइस की तुलना में 590 रुपये प्रति शेयर का घाटा हुआ है। 

5. विधानसभा चुनाव में पशुपति कुमार पारस को हराया था, अब मुखिया के चुनाव में मिली करारी हार

PAsupatinath Paras

राजनीति में समय किस तरह बदलता है इसका बड़ा उदाहरण बिहार में देखने को मिला है। यहां एक समय में विधायकी के चुनाव में पशुपति कुमार पारस को हराने वाले चंदन कुमार उर्फ चंदन राम पंचायत चुनाव में भी जीत नहीं दर्ज कर पाए।अलौली के पूर्व विधायक चंदन कुमार तेताराबाद पंचायत से मुखिया पद के लिए चुनाव लड़े थे। परिणामों के बारे में सभी आश्वस्त थे कि पूर्व विधायक ही यह चुनाव जीतेंगे। लेकिन जब परिणाम सामने आए तो अलग ही तस्वीर देखने के लिए मिली।

6. वसुंधरा राजे ने पार्टी के भीतर विरोधियों से निपटने के लिए बनाई खास रणनीति, उनके ही गढ़ में देंगी चुनौती

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपनी ही पार्टी में अपने सियासी विरोधियों से निपटने के लिए खास योजना बनाई है। वसुंधरा नेता प्रतिपक्ष के गढ़ मेवाड़ से 23 नवंबर से हेलिकॉप्टर के जरिए यात्रा शुरू कर रही हैं। तीन दिन पहले ही गुलाबचंद कटारिया ने वसुंधरा राजे पर सवाल खड़े करते हुए कहा था कि स्टार प्रचारक होने के बावजूद ने पिछले तीन उपचुनाव में कहां थीं।  

Facebook Comments Box