Aryan Khan Case : महाराष्ट्र के मंत्री ने बताए वो 3 नाम जिन्हें रेड के बाद छोड़ा गया, बीजेपी कनेक्शन का दावा

Copy

एनसीपी प्रवक्ता और महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने मुंबई नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो पर गंभीर आरोप लगाया है। मलिक ने कहा कि बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान मामले में किसी भी प्रकार का ड्रग्स मिला ही नहीं है। उन्होंने कहा कि बीजेपी बॉलीवुड और राज्य सरकार को बदनाम करने का हर संभव प्रयास कर रही है।

उन्होंने कहा कि आर्यन खान के साथ वायरल हुए फोटो में दिखने वाला व्यक्ति मनीष भानुशाली है। जो बीजेपी का कार्य करता है। मनीष भानूशाली की तस्वीर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के साथ भी है। ऐसे में एनसीबी को यह बताना चाहिए कि आखिर उनका और भानुशाली का क्या संबंध है? नवाब मलिक ने बीजेपी नेता मनीष भानूशाली और केपी गोसावी पर आरोप लगाए हैं।

क्या बोले नवाब मलिक
नवाब मलिक ने कहा कि कुछ दिन पहले एनसीबी ने एक क्रूज़ पर रेड की थी। जिसमें एक व्यक्ति आर्यन खान को लेकर जाता हुआ दिखाई पड़ रहा है। उसके साथ सेल्फी खींची गई और इस यह सेल्फी वायरल भी हुई। लेकिन वह एनसीबी का अधिकारी नहीं है। अब एनसीबी को यह बताना चाहिए कि वह आदमी कौन है।

एनसीबी से मलिक के सवाल

नवाब मलिक ने कहा कि कुछ फोटो एनसीबी द्वारा जारी किए गए थे। जिसमें कुछ ड्रग्स दिखाए गए थे। लेकिन यह फोटो दिल्ली एनसीबी की तरफ से दिखाई गई थी। यह फोटो जोनल डायरेक्टर ऑफिस की है। आखिर केपी गोसावी का जोनल डायरेक्टर के साथ क्या संबंध है? एनसीपी को इस बात का उत्तर देना चाहिए। आखिर दो निजी व्यक्तियों ने यह कार्रवाई कैसे की? उन्हें किसने यह अधिकार दिया?

बीजेपी कर रही है बदनामी
नवाब मलिक ने आरोप लगाया कि बीजेपी, बॉलीवुड और राज्य सरकार को बदनाम कर रही है। 21 सितंबर को मनीष भानुशाली दिल्ली में कुछ मंत्रियों के घर पर थे और उसके बाद 22 तारीख को गांधीनगर में। 21 और 22 तारीख को ही गुजरात के बंदरगाह पर भारी मात्रा में ड्रग्स बरामद किया गया था। ऐसे में वह 28 तारीख तक गुजरात में क्या कर रहा थे और किन-किन मंत्रियों से मिले। इसका उत्तर एनसीबी को देना चाहिए।

Facebook Comments Box