मोदी कोई देश के भगवान थोड़ी हैं ? छात्रों से नारे लगवाने पर भड़क गए राकेश टिकैत, ऐसे दिया जवाब

यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को लाने का काम लगातार जारी है लेकिन अभी भी बड़ी संख्या में छात्रों के फंसे होने की खबरें मिल रही हैं। इस बीच विपक्ष उत्तर प्रदेश में पीएम मोदी की चुनावी सभाओं पर निशाना साध रहा हैं। इतना ही नहीं जब एक विमान छात्रों को लेकर घर पहुंचा तो केंद्रीय मंत्री के ‘पीएम मोदी जिंदाबाद’ के नारे पर लोगों ने तीखी रिएक्शन दी.

farmer leader rakesh tikaiti
modi and rakesh tikaiti

यूक्रेन में फंसे छात्रों पर क्यों बोले राकेश टिकैत: यूक्रेन में फंसे छात्रों और छात्रों द्वारा ‘पीएम मोदी जिंदाबाद’ के नारे लगाने पर किसान नेता राकेश टिकैत ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। राकेश टिकैत ने कहा है कि ”सरकार छात्रों को लाने के लिए कोई प्रयास नहीं कर रही है। जो छात्र खुद सीमा पर पहुंच रहे हैं, उनसे एयरपोर्ट पर नारेबाजी की जाती है, उनके साथ फोटो खिंचवाए जाते हैं। राकेश टिकैत ने कहा कि मोदी कई देशों के भगवान हैं जो उनके लिए नारे लगा रहे हैं। बीजेपी के लोग अब यूक्रेन में भी वोट ढूंढ रहे हैं.

”छह हजार देकर गाते रहो”: राकेश टिकैत ने हिजाब विवाद पर कहा कि ”जो भी हिजाब की बात करे, उससे हिसाब की बात करो। हिजाब का काट हिसाब किताब है। राकेश टिकैत ने कहा कि हमने तेलंगाना के मुख्यमंत्री से मुलाकात की है। वहां की सरकार किसानों को दस हजार रुपये प्रति एकड़ देती है और वे छह हजार देकर गाते रहते हैं।

इसे भी पढ़ें..  Vidisha Suicide Case: BJP नेता ने पत्नी और दो बेटों के साथ खाया जहर, चारों की मौत; इस वजह से दे दी जान

किसानों से मतगणना केंद्र पहुंचने की अपील क्यों की
10 तारीख को जब वोटो की गिनती की जाएगी तो उस दिन के लिए राकेश टिकैत ने किसानों से अनुरोध किया है की उनके पास जो भी साधन हो उस से वे मतदान केंद्र पहुंचे। इस पर राकेश टिकैत ने सफाई देते हुए कहा कि ”जनता ने वोट दिया है, जब तक वोट प्रत्याशी के घर नहीं पहुंच जाता, तब तक हमें इस पर नजर रखनी होगी.” राकेश टिकैत ने कहा कि वे (भाजपा) बेईमानी करेंगे। उन्होंने जिला पंचायत चुनाव में गुंडागर्दी की है। चोर को रास्ता मिल गया है, अब वह फिर उसी रास्ते से आएगा, जागते रहो।

हम आपको बता दें कि किसान आंदोलन को लेकर राकेश टिकैत चर्चे में आए थे। इसके बाद से वह लगातार बीजेपी के खिलाफ बोलते हैं। हालांकि वे कहते है कि वह भाजपा के खिलाफ नहीं हैं, बल्कि उस सरकार के खिलाफ हैं जो उनकी मांग नहीं मानती। गौरतलब है कि पांच राज्यों के चुनाव परिणाम 10 मार्च को घोषित किए जाएंगे।

इसे भी पढ़ें..  PM मोदी ने भगाया एग्जाम का ‘डर’, Photos में देखें कैसा रहा ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम