Mayawati बोलीं- अपराधी नहीं डरें, कानून व्यवस्था कि खुली पोल Lakhimpur में दलित बहनों के शव मिलने पर

यूपी के लखीमपुर में बुधवार को दो बहनों के शव पेड़ से लटके मिले। जिनके शव मिले दोनों बहनें हैं। मामला लखीमपुर खीरी के निघासन कोतवाली का है. वहीं इस मामले में सियासी रंग भी चढ़ने लगा है. इससे पहले समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव इस घटना को हाथरस की पुनरावृत्ति बता चुके हैं।

Mayawati said - don't be afraid of criminals
Mayawati बोलीं- अपराधी नहीं डरें

इसके बाद प्रियंका गांधी और संजय सिंह ने भी सवाल उठाए हैं। अब इस घटना पर बसपा प्रमुख मायावती का भी जवाब आया है मायावती ने ट्वीट किया, ‘लखीमपुर खीरी में दो दलित बेटियों को उनकी मां के सामने अगवा कर उनके शवों को पेड़ से लटकाए जाने की दिल दहला देने वाली घटना हर जगह चर्चा में है,

हाल ही का ट्वीट :-

क्योंकि इस तरह की दुखद और शर्मनाक घटनाओं की कितनी ही निंदा की जाए. यूपी में अपराधी निडर हैं क्योंकि सरकार की प्राथमिकताएं गलत हैं.’ उन्होंने कहा, “यह घटना यूपी में कानून-व्यवस्था और महिला सुरक्षा के मामले में सरकार के दावों को उजागर करती है।

हाल ही का ट्वीट :-

हाथरस सहित ऐसे जघन्य अपराधों के मामलों में ज्यादातर अपराधी महाभियोग से बेखबर हैं। यूपी सरकार की अपनी नीतियां हैं, प्रक्रियाओं। और प्राथमिकताओं में आवश्यक सुधार करें।”