लक्ष्मण सुनील लहरी ने खोली बॉलीवुड की पोल, हीरोइन की उम्र ज्यादा हो तो हीरो को करना पड़ता था यह काम

अस्सी के दशक में जब पहली बार टीवी की दुनिया यानि की अपने दूरदर्शन पर प्रसारित हुए रामायण ने तब जबरदस्त लोकप्रियता हासिल की थी। इस शो में राम और सीता की भूमिका में अरुण गोविल और दीपिका चिखलिया थे। पिछले साल जब देश में कोरोना काल में पहला लॉकडाउन लगा था उसी दौरान रामायण का दोबारा प्रसारण किया गया था, जिसे लॉकडाउन के दौरान रिकॉर्ड व्यूअरशिप मिली थी। इसके बाद रामायण के सभी मुख्य कलाकार एक बार फिर चर्चा में आ गये थे और सोशल मीडिया सभी की फैन्स फॉलोइंग में भी जबरदस्त इजाफा हुआ था।

इसी रामानंद सागर की रामायण में लक्ष्मण का बेहद ही चर्चित किरदार सुनील लहरी ने निभाया था और इसे निभाकर लोकप्रियता के शिखर पर पहुंच गए थे। सुनील लहरी अक्सर ही अपनी सोशल मीडिया पोस्ट्स के जरिए दिलचस्प बातें शेयर करते रहते हैं। अपने जीवन के अनुभवों से लेकर फिल्मों और टीवी धारावाहिकों में काम करने तक की बातें बताते हैं। तस्वीरें भी शेयर करते हैं। सुनील के यूजर्स उनके इस अंदाज को खूब पसंद करते हैं और उनकी पोस्ट्स पर ढेरों कमेंट करते हैं। अब सुनील ने एक मजेदार तथ्य साझा किया है, जो हिंदी सिनेमा में काफी पुराना है।

दरअसल, तब के समय में फिल्म में जब किसी एक्टर की उम्र एक्ट्रेस से कम हो और उनकी जोड़ी बनायी जाती थी, तो उसे मुंछ लगा दी जाती थी, ताकि उम्र का फासला कम हो जाए या खत्म हो जाए। उस वक्त सिनेमा तकनीकी रूप से उतना उन्नत नहीं था तो सारा खेल मेकअप से ही किया जाता था। आज तो वीएफएक्स के जरिए कुछ भी सम्भव है। सुनील ने इस तथ्य को एक तस्वीर के साथ साझा किया। उन्होंने लिखा- यह भी एक अजीब चलन था और है, अगर आप अपने से बड़ी उम्र के एक्टर के साथ काम कर रहे हैं तो मूंछ रखकर जोड़ी बनायी जाती रही है। अपने समय की मशहूर एक्ट्रेस काजल किरन के साथ पुरानी पिक्चर।

Sunil Lahri as Lakshman in Ramayan
Sunil Lahri as Lakshman in Ramayan

बता दें, मालूम हो की सुनील लहरी की उम्र काजल से तीन साल कम थी। काजल किरन ने 1977 में हम किसी से कम नहीं फिल्म से डेब्यू किया था और 80 के आखिरी सालों तक सक्रिय रही थीं। उनकी आखिरी फिल्म आखिरी संघर्ष है, जो रिटायरमेंट के बाद 1997 में रिलीज हुई थी।

Facebook Comments Box