देश

#JusticeForKajal गुजरात में 19 साल की युवती का दुष्कर्म के बाद हत्या,पेड़ से लटका मिला शव

Advertisement

नवंबर 2019 प्रियंका रेड्डी के रेप और मर्डर के किस्से को अभी भूलें भी नहीं है लोग की एक और निंदिए घटना या यूं बोलें तो दरिंदगी की खबर आ गई । तो देश को शर्मसार ना बोलें तो क्या बोलें।

लगता है हमारे नेता सिर्फ नारे लगाते रहेंगे “बेटी बचाओ” उसपे कोई मुहिम या बेटियों के बचाओ में कुछ काम नहीं करेगी, यू बेटियां दरिंदों के हत्ते चढ़ती रहेगी।
दरिंदों को ना तो भगवान का दर है और ना ही कानून का तभी हर हफ्ते दर हफ्ते ऐसी घटना को कोई ना कोई, कहीं ना कहीं अंजाम देते रहते हैं।

यह भी पढ़ें-  Fresh green vegetables will produced at Ladakh defence post | सेना के जवान खाएंगे इस लैब की सब्जी, पोषण का रखा गया है पूरा ध्यान

और दर होंगे भी कैसे निर्भया रेप और हत्याकांड के हथियारों को 7 साल बाद भी सजा नहीं मिली है, 22 जनवरी 2020 को फांसी की सजा मिलने वाली है। सब निर्भया के कांड को भूलते भी नहीं है कि दूसरी कांड तैयार, वैसे ही अभी प्रियंका के परिवार वाले इस दर्द से बाहर भी नहीं आएं फिर एक दर्द एक परिवार वालो के सीने में आ लगी है। क्या होगा इस देश में बेटियों का क्या ?19 साल की उस लड़की की क्या गलती थी जिसे कमजोर कानून का शिकार होना पड़ा?

5 जनवरी 2020 को गुजरात के सायरा गांव में एक बरगद पेड़ से 19 वर्षिय लड़की फांसी के फंदे से लटकी पाई गई। उनके परिवार वालों ने चार लोगो के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है, उस लड़की से साथ आरोपियों ने दुष्कर्म कर के उसे पेड़ से लटका के सुसाइड का रूप देने की कोशिश की है।

यह भी पढ़ें-  Anurag Kashyap reaches Versova Police station in connection with Payal Ghosh rape case | अनुराग कश्यप वर्सोवा थाना पहुंचे, एक्ट्रेस पायल घोष ने लगाया है रेप का आरोप

पीड़िता काजल 31 दिसम्बर से लापता थी परिवार वालो को नहीं मिलने पर जब वो पुलिस कंप्लेन करनी चाही तो पुलिस वालों ने कंप्लेन लेने से साफ मना कर दिया और कहा कि वो अपनी मर्जी से भागी है और किसी से शादी कर ली है। अगर पुलिस वाले कंप्लेन फाइल करते और उसपे एक्शन लेते तो शायद आज एक और बेटी कि बली नहीं चढ़ती , शायद वो अभी जिंदा होती।

लोगों का कहना है कि जिस तरह प्रियंका रेड्डी के अपराधियों को तुरंत मौत के घाट उतार दिया गया था उससे तरह अगर हर अपराधियों को सजा मिले तब जाकर दरिंदों के में में दर पैदा होगा तब ही ये अपराध रुक सकेंगे। तब ही देश की बेटियां , युवतियां सुरक्षित रह पाएगी।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग न्यूज़

To Top