Advertisement

IPL 2020: अश्विन बोले- पर्पल और ऑरेंज कैप आंखों में धूल झोंकने की तरह | cricket – News in Hindi

अश्विन का मानना है कि अगर टीम मैच नहीं जीतती है तो फिर इस तरह के इनाम बेकार हैं.

नई दिल्ली. दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के सीनियर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) का मानना है कि ‘पर्पल’ या ‘ऑरेंज कैप’ जीतना तब तक बेमानी है, जब तक कि खिलाड़ी टीम के लिए अपनी भूमिका को सही तरह से अंजाम नहीं देता. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) में सर्वाधिक रन बनाने वाले को ‘ऑरेंज कैप’ और सबसे अधिक विकेट चटकाने वाले को ‘पर्पल कैप’ दी जाती है, लेकिन अश्विन का मानना है कि अगर टीम मैच नहीं जीतती है तो फिर इस तरह के इनाम बेकार हैं.

अश्विन ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक प्रशंसक के स्ट्राइक रेट से जुड़े सवाल के जवाब में कहा, ”इस तरह की संख्या कोई मायने नहीं रखती. पर्पल और ऑरेंज कैप आंखों में धूल झोंकने की तरह है. यह टीम की जीत में योगदान निभाने से जुड़ा है, अपनी भूमिका निभाना (जीत में).” ‘हेलो दुबइया नाम का अश्विन का यह शो तमिल में है जिसमें अंग्रेजी में सब टाइटल हैं.

IPL 2020 से बाहर हो सकते हैं ऋषभ पंत, इस खिलाड़ी को मौका दे सकती है दिल्ली कैपिटल्स!

अश्विन ने इसके बाद एक उदाहरण दिया कि किस तरह निश्चित परिस्थितियों में रक्षात्मक शॉट खेलना जरूरी होता है. अश्विन ने दक्षिण अफ्रीका की राष्ट्रीय टीम के प्रदर्शन विश्लेषक प्रसन्ना एगोरम के साथ चर्चा करते हुए कहा, ”अगर आपके नौ विकेट गिर गए हैं और 10 रन बनाने हैं तो आप 19वें ओवर की पांचवीं गेंद पर रक्षात्मक शॉट खेल सकते हैं. यह टीम की जरूरत के अनुसार है.”अश्विन का मानना है कि ‘विश्लेषण, आलोचना और सराहना’ के साथ चलते हैं और इन्हें मिश्रित करने का कोई मतलब नहीं है. उन्होंने कहा, ”अपने खेल का लुत्फ उठाओ और खेल को देखो.” बता दें कि दिल्ली कैपिटल्स दूसरे नंबर पर है. दिल्ली ने भी अबतक सात में से 5 मैचों में जीत हासिल की है. दिल्ली के अंक भी 10 हैं, लेकिन उनका नेट रन रेट +1.038 है.

IPL 2020: सनराइजर्स को हराकर छठे नंबर पर CSK, जानें किसके पास है ऑरेंज और पर्पल कैप

दिल्ली कैपिटल्स का मुकाबला आज राजस्थान रॉयल्स के साथ है. आईपीएल 2020 में दिल्ली और राजस्थान का यह दूसरा मैच है. इससे पहले मैच में दिल्ली ने राजस्थान को 46 रनों से मात दी थी.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.