देश-समाज

हिन्दू विरोधी ममता सरकार में देवी-देवताओं का अपमान, जूते-चप्पल से सजाया दुर्गा पंडाल

Mamta Sarkar

बात अगर पश्चिम बंगाल की करे तो वहा दुर्गा पूजा अलग ढंग से मनाया जाता है. पश्चिम बंगाल मे दुर्गा पूजा धूमधाम से मनाया जाता है.यहां दुर्गा पूजा पंडाल अलग अलग तरिके से सजाया जाता है.आज हम आपको दमदम पार्क इलाके में एक दुर्गा पूजा पंडाल में जूतों से सजावट की गई है और इस वज़ह से बवाल खड़ा हो गया है.

आपको बता दे की बीजेपी और
विश्व हिंदू परिषद ने इस पंडाल का कड़ा विरोध जताया है.इस पंडाल को किसान आंदोलन के थीम पर बनाया गया है.लेकिन बीजेपी और विश्व हिन्दू परिषद ने भी कहा की ममता बनर्जी हिन्दू विरोधी है.

दमदम पार्क भारत चक्र की पूजा थीम इस बार किसानों का प्रदर्शन है.इसी को लेकर इस पंडाल में उन घटनाओं को दर्शाया गया है जो किसानों को अपने साथ जोड़ रहा है.इसमें आंदोलन से लेकर लखीमपुर खीरी हिंसा तक को दिखाया गया है.

इस पंडाल मे जूता चप्पल भी लगाया गया है और किसानो का समर्थन किया गया है.बीजेपी ने कहा है की यह कार्य हिन्दू विरोधी है.बीजेपी के नेता सुभेंदू अधिकारी ने इसके विरोध में राज्य के गृह सचिव को पत्र भी लिखा है.बीजेपी मीडिया सेल प्रमुख सप्तर्षि चौधरी के साथ साथ बंगाल के कई भाजपा नेताओं ने पंडाल में चप्पल और जूते का उपयोग करने के लिए सोशल मीडिया पर आयोजकों की कड़ी निंदा किया है.

सप्तार्शी चौधरी ने लिखा है कि, “यह वह जगह है जहां भजन पढ़े जाएंगे, लोग पूजा करेंगे और आप उस जगह को सजाने के लिए चप्पल का इस्तेमाल करेंगे?” उन्होंने कहा है कि यह सब राजनीति के तहत किया गया है.

आपको बता दें कि वीएचपी ने भी इसका विरोध जताया है. वीएचपी ने भी विरोध मे राज्य गृह मंत्री को पत्र लिखा है. बीएसपी का मानना है कि यह हिंदू धर्म का अपमान है.

ममता बनर्जी की छवि अक्सर हिंदू विरोधी रही है और उन्होंने पंडाल में ऐसे जूता चप्पल लगवाने के बाद यह छवि और ज्यादा बढ़ गई है. कई जगह सोशल मीडिया पर लोग भी ममता बनर्जी के इस बात को लेकर कड़ी निंदा कर रहे हैं और बोल रहे हैं की यह काम हिंदू धर्म के विरोध है

ममता बनर्जी ने इस पर सफाई देते हुए कहा कि यह पंडाल आंदोलन और किसानों के संघर्ष को दर्शाता है. उन्होंने कहा कि भाजपा और आरएसएस से डर गए हैं और वह इसे राजनीतिक रूप दे रहे हैं लेकिन इसमें कोई भी राजनीति नहीं है बल्कि और किसानों के समर्थन में बनाया गया है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top