बैठक में अपने ही नेताओं पर भड़क पड़ी सोनिया गांधी, बोली – मैं हूं अध्यक्ष, और मेरी ही….

Copy

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की कल अहम बैठक हुई जो तीन घंटे चली.बैठक की शुरुआत में ही सोनिया गांधी ने पार्टी के असंतुष्ट नेताओं के समूह जी-23 को करारा जवाब दिया . सोनिया गांधी ने अपने शुरुआती संबोधन में ही गरजते हुए कहा कि मैं ही हूं कांग्रेस की पूर्णकालिक अध्यक्ष. सोनिया ने अपने संबोधन में कहा, “यदि आप मुझे ऐसा कहने की अनुमति देते हैं तो मैं कहती हूं कि -हां,मैं ही कांग्रेस की फुल टाइम अध्यक्ष हूं और आपको ये बात मीडिया के जरिये करने की जरूरत नहीं है.” जो कहना हो सबके सामने स्पष्ट तौर पर कहें.

उनके इस बयान पर कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, हमें सोनिया गांधी जी पर पूरा भरोसा है और कोई भी उनके नेतृत्व पर सवाल नहीं उठा रहा है.

सोनिया गांधी ने कहा कि उन्होंने खुले माहौल में बातचीत को हमेशा से सराहा है. उन्होंने कहा कि ईमानदारी से और स्वस्थ चर्चा होनी चाहिए. लेकिन इस कमरे के बाहर क्या जाना चाहिए ये CWC का सामूहिक फैसला होना चाहिए.

इसके बाद सोनिया ने कहा कि हमने कभी भी लोक महत्व के मुद्दों पर टिप्पणी करने से इनकार नहीं किया. पार्टी में संगठन चुनाव पर सोनिया ने कहा कि संगठन चुनाव का पूरा खाका आपके सामने आ रहा है. बता दें कि कुछ ही दिन पहले कपिल सिब्बल ने कहा था कि कांग्रेस के फैसले कौन लेता है ये उन्हें समझ में नहीं आ रहा है.

“कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सीडब्ल्यूसी में अपनी प्रारंभिक टिप्पणी मे विपक्ष पर सवाल दागते हुए कहा कि”लखीमपुर-खीरी की चौंकाने वाली घटनाएं हाल ही में भाजपा की मानसिकता को उजागर कर रही हैं. किसान आंदोलन में देश का किसान आज अपनी आजीविका के लिए कड़ा संघर्ष कर रहा है.

सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार का बस एक ही एजेंडा है “बेचो बेचो बेचो”. सोनिया गांधी ने कश्मीर में हो रहे हिंदुओं की हत्या की कड़ी निंदा की. उन्होंने कहा कि हम कश्मीर में अल्पसंख्यकों के टारगेटेड किलिंग की निंदा करते हैं.

Facebook Comments Box