Advertisement
Categories: International

इमरान खान का छलका दर्द, बोले – आप मेरी जगह होते तो हार्ट अटैक आ जाता

Advertisement

पुराने ज़माने की सारी कहावतें सोच समझ कर बनाई गयी है तभी तो आज पड़ोसी मुल्क के प्रधानमंत्री का बयान सुनकर दिल कह रहा है कहने को ” अब आया ऊंट पहाड़ के नीचे बीते दिनों इमरान खान का दर्द छलक उठा और वो बोले उठे यदि आप सब मेरी जगह होते तो हार्ट अटैक आ जाता

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इस समय कितने दबाव में हैं |इसका अंदाजा उनके बयान से लगाया जा सकता है। उन्होंने मंगलवार को काउंसिल आन फॉरेन अफेयर्स के संबोधन के दौरान कहा कि इतनी दिक्कतें हैं |यदि उनकी जगह अगर कोई और होता तो उसे हार्ट अटैक हो गया होता।

You May Like : खीरे का इस्तेमाल लड़कियां खाने से ज्यादा इन कामों के लिए भी करती हैं

पड़ोसी देशों के साथ पाक के रिश्‍तों पर खुलकर की बात

भले ही इमरान ने यह बात मजाक में कही हो लेकिन इस टिप्‍पणी से उनकी वर्तमान स्थिति का पता भी चल जाता है। पाकिस्‍तान मीडिया के मुताबिक इमरान न्‍यूयॉर्क के काउंसिल ऑफ फॉरेन रिलेशंस (सीएफआर) में बोल रहे थे। इस थिंक टैंक के साथ बातचीत करते हुए इमरान ने भारत, अफगानिस्‍तान और दूसरे पड़ोसी देशों के साथ पाक के रिश्‍तों पर खुलकर बात की।

उन्होंने कौंसिल आन फॉरेन अफेयर्स के अध्यक्ष व चर्चा के मॉडरेटर रिचर्ड हॉस के एक सवाल पर यह टिप्पणी की। इमरान ने हॉस से कहा, “पाकिस्तान के सामने इतनी गंभीर चुनौतियां हैं | अगर आप मेरी जगह होते तो आपको हार्ट अटैक हो जाता। यह तो क्रिकेट खेलने के दौरान सीखे गए मुश्किल और कड़ी मेहनत के तौर तरीकों की वजह से संभव हो सका है | मैं दृढ़तापूर्वक इन चुनौतियों का सामना करने और इनसे निपटने की कोशिश कर रहा हूं।

You May Like : ट्रक ड्राइवर ने बचाई थी इस लड़की की इज्जत, इसके बाद मांग लिया कुछ ऐसा कि

हंसी-मजाक के बीच ही अपनी बेचारगी दिखा गए

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान इमरान खान की इस बात पर आयोजन में ठहाके लगे। हंसी-मजाक के बीच ही पाकिस्तानी प्रधानमंत्री एक बार फिर अपनी बेचारगी उस वक्त दिखा गए जब उन्होंने कहा कि कुछ मामलों से निपटने के लिए उनके पास वह पॉवर नहीं है जो चीन के शासकों के पास होती है। उन्होंने कहा कि चीन हमारे लिए प्रगति की मिसाल है। उसने अपने करोड़ों नागरिकों को गरीबी से बाहर निकाला है। इमरान ने कहा, “अगर मेरे पास भी उनके जैसे आदेश जारी करने की शक्ति हो तो मैं भी देश से गरीबी और भ्रष्टाचार खत्म कर दूं।”

You May Like : –

Advertisement
Leave a Comment

Recent Posts

Advertisement

This website uses cookies.