क्या आर्यन खान को मुंबई क्रूज ड्रग्स केस में जानबुझ कर फसाया गया है ? इस बीजेपी कार्यकर्ता का आ रहा है नाम।।

Copy

ड्रग्स केस में एनसीबी ने शाहरुख खान के बेटे को गिरफ्तार किया था. तब से यह मामला तूल पकड़ लिया है. ड्रग्स केस का तार भोपाल से जुड़ने लगा है. आपको बता दें कि इस केस में तीन ऐसे लोग हैं जो एनसीबी के लिए परेशानी बन सकते हैं. उनमें से एक शख्स वह है जिन्होंने इस पार्टी के बारे में एमसीबी को सूचना दिया था. लोग अब एनसीबी की कार्यप्रणाली पर उंगली उठा रहे हैं.

भोपाल के रहने वाले नीरज यादव की पहचान मनीष भानु शाली और केडी गोसावी से है. भानु शाली और गोसावी वही दो आदमी हैं, जो क्रूज पर रेड के दौरान आर्यन खान और अरबाज़ मर्चेंट का हाथ पकड़ कर जाते हुए दिखे थे . इन दोनों के रेड में शामिल होने पर एनसीबी की कार्रवाई पर खूब सवाल उठ रहे हैं. किरकिरी होने के बाद एनसीबी उन दोनों को लेकर सफाई दी थी कि ये दोनों केस के स्वतंत्र गवाह हैं.

इससे जुड़ी एक चौंकाने वाली बात भी सामने आई है.अक्टूबर की शाम 5  बजे के मनीष भानु शाली को फोन करके जानकारी दी थी कि मुंबई में एक शिप पर दो अक्टूबर को रेव पार्टी होने वाली है. नीरज ने मनीष भानु शाली को 27 लोगों के नाम भी भेजे थे. जो पार्टी में ड्रग्स लेकर आने वाले थे. नीरज के पास भानु शाली को किए गए फ़ोन कॉल का सबूत भी है.

आपको बता दें कि भानुशाली खुद को बीजेपी का कार्यकर्ता बता रहा है और भानुशाली की नीरज के साथ कई सारे फोटोज भी हैं. कई सारे फोटो भानुशाली के बीजेपी के सम्मेलन के भी हैं.

अब लोग ऐसा सोच रहे हैं कि क्या आर्यन खान को किसी साजिश के तहत गिरफ्तार किया गया है.

Facebook Comments Box