हलाला ने बर्बाद कर दी थी मीना कुमारी की ज़िंदगी, पति ने अपने दोस्त के बूढ़े बाप से करा दी थी शादी

मशहूर अभिनेत्री मीना कुमारी को बॉलीवुड की ट्रैजेडी क्वीन कहा जाता है। उन्होंने अपनी जिंदगी में इतने उतार चढ़ाव देखे हैं जिसकी आम आदमी कल्पना भी नहीं कर सकते हैं। आप जानकार हैरान रह जाएंगे की मशहूर अभिनेत्री मीना कुमारी जी को एक्टिंग में कोई इंट्रेस्ट नहीं था , वो पढ़ना चाहती थीं पर उनके परिवार कि आर्थिक स्थिति खराब हो गई जिसकी वजह से अभिनेत्री को पढ़ाई लिखाई छोड़ का एक्टिंग करना पड़ा। खबर तो यह भी है कि जन्म के बाद मीना जी को उनके पिता अनाथालय छोड़ आए थे।

meena kumari

गरीबी कि वजह से घर की स्थिति इतनी खराब थीं कि पिता जी अपनी बेटी मीना कुमारी के बीमार पड़ने के बाद इलाज नहीं करवा पा रहे थे । जिस वजह से वो उन्हे अनाथालय छोड़ आए थे लेकिन मीना कि मा अपनी बेटी से दूर नहीं रह पाईं और उन्हें वापस घर ले आईं।

meena kumari
meena kumari

मीना कुमारी का जन्म 1 अगस्त 1932 में पश्चिम बंगाल के एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उनका असली नाम मजहबी था। मात्र 7 साल की उम्र में ही अभिनेत्री ने फिल्मी दुनिया में कदम रख दिया था। एक फिल्म के शूटिंग के वक़्त ही कमाल अमरोही और मीना कुमारी के बीच नजदीकियां बढ़ी जिसके बाद उन्होंने शादी करने का निर्णय के लिया। कमाल साहब मीना से 15 साल बड़े थे। और वे पहले से ही दो शादी कर चुके थे।इसके बाद भी साल 1952 में उन्होंने मीना कुमारी से शादी कर ली। उस वक़्त मीना महज 19 साल की ही थीं। पर यह शादी ज्यादा वक़्त तक टिक नहीं पाई और उनका तलाक हो गया।

meena kumari
meena kumari

मीना और कमाल के रिश्ते में दरार पड़ने के बाद कमाल ने तीन बार तलाक तलाक तलाक कह दिया और इनका रिश्ता टूट गया। कहा जाता है कि उनके तलाक की वजह मीना और धर्मेन्द्र के बीच की नजदीकियां थीं। लेकिन मीना कुमारी से अलग होने के बाद कमाल रह नहीं पाए और उन्होंने मीना कुमारी को फिर से अपनी बेगम बनाने के लिए उनका हलाला कर दिया।

meena kumari
meena kumari

कमाल से दोबारा शादी करने के लिए मीना ने किसी और से शादी की और उसने जब मीना कि तलाक दिया तब वह फिर से कमाल साहब की बीवी बन पाईं। कमाल से दोबारा शादी करने के लिए मीना कुमारी की शादी अभिनेत्री जीनत अमान के पिता जो कमाल साहब के करीबी दोस्त अमान उल्लाह खान से करा दी गई थी। इसके बाद दोनों का तलाक हुआ तब कमाल और मीना दोबारा एक हो पाए। आपको बता दें इस तरह की शादी को हलाला कहा जाता है।

इस हलाला का असर अभिनेत्री के जीवन पर भी पड़ा और वो बहुत ज्यादा शराब पीने लगीं। इस वजह से उनकी तबीयत खराब रहने लगी थी। 31 मार्च 1972 को मीना कुमारी की लिवर कैंसर से मृत्यु हो गई थी।

Facebook Comments Box