देश-समाज

डॉक्टर की बीबी से अवैध संबंध के शक में जिम ट्रेनर को मारी गोली, 8 महीने में 1100 बार बात हुई

JDU neta

एक तरफ नीतीश कुमार दावा करते हैं कि बिहार में क्राइम अब बिल्कुल शून्य हो गया है वहीं दूसरी तरफ एक ऐसा मामला सामने आया है जो यह साफ जाहिर करता है कि बिहार में क्राइम अभी भी खत्म नहीं हुआ है. यह घटना बिहार की राजधानी पटना की है.

हथियार बंद अपराधियों ने विक्रम सिंह नाम की एक जिम ट्रेनर को सरेआम गोली मार दी. गोली लगने के बाद जिम ट्रेनर बुरी तरह घायल हो गए. लेकिन घायल अवस्था में ही वह अपनी स्कूटी चला कर पीएमसीएच पहुंचे जहां उन्हें एडमिट कर लिया गया. विक्रम सिंह का पीएमसीएच में इलाज चल रहा है वह अभी जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे हैं.यह घटना कदमकुआं थाना क्षेत्र के बुद्ब मूर्ति इलाके की है.

क्या है पूरी घटना- सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विक्रम सिंह जिनकी उम्र 25 साल है, वह एक स्थाई जिम ट्रेनर है. शनिवार के दिन सुबह में जब वह अपनी स्कूटी से जिम जा रहे थे उसी समय से घात लगाए अपराधियों ने उन पर अंधाधुंध गोलियां चलाई.इस हमले में विक्रम को पीठ, पेट और हाथ में चार गोलियां लगी हैं. गोली लगने के बाद बिक्रम घायल हो गए और उसके बाद अपनी स्कूटी चला कर पहले वह एक निजी अस्पताल में पहुंचे और उसके बाद उन्हें पीएमसीएच ले जाया गया जहां उन्हें भर्ती कर लिया गया और उनका इलाज चल रहा है.

विक्रम सिंह द्वारा पुलिस को दिए गए बयान में यह बताया गया है कि उन पर हमला कराने वाले जदु नेता डॉक्टर राजीव कुमार सिंह है. उन्होंने बताया कि उनका और डॉक्टर राजीव कुमार सिंह के पत्नी खुशबू सिंह के अवैध संबंध थे जिसके बाद से राजीव कुमार सिंह ने विक्रम सिंह को जान से मारने की धमकी भी दी थी. जिम ट्रेनर के इस बयान के बाद पुलिस ने डॉ विक्रम सिंह और उनकी पत्नी खुशबू सिंह को हिरासत में ले लिया है और पूछताछ शुरू कर दी है.

पुलिस इस मामले का सुपारी किलिंग के रूप में भी जांच कर रही है. इस घटना के बाद जदयू ने डॉक्टर राजीव कुमार सिंह को चिकित्सा प्रकोष्ठ के उपाध्यक्ष पद से हटा दिया गया है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top