जानें, जनरल बिपिन रावत की जिंदगी में कैसे आईं थीं मधुलिका, किस शख्‍स ने कराया था रिश्‍ता, शादी लव थी या अरेंज

देश के पहले CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत अब इस दुनिया का हिस्सा नहीं है पर न होकर भी वो हमेशा हमारे दिलों में रहेंगे। मालूम हो की कुन्नूर में हेलीकाप्टर क्रैश में CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत अन्य 13 लोगों ने अपनी जान गवां दी। खेर CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत भले ही अब इस दुनिया का हिस्सा नहीं है पर दोनों ताउम्र सभी देशवासियों के दिल में रहेंगे। किस्मत का खेल देखिये CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत जन्मों के साथी थे और मौत को भी एक साथ गले लगाकर इस दुनिया से चले गए।

bipin rawat

दोनों की शादी के पीछे की कहानी बेहद रोचक है। मालूम हो मधुलिका रावत शहडोल सोहागपुर के इलाकेदार मृगेंद्र सिंह की मंझली बेटी थीं। मधुलिका सिंह की बिपिन रावत से शादी 1986 में सोहागपुर में रहने वाले राजपुरोहित सुनील द्विवेदी ने करवाई थी। खैरहा गढ़ी के राजा सिंह ने बताया कि जनरल बिपिन रावत का रिश्ता शहडोल से जोड़ने में मुख्य भूमिका उनके पिता और खैरहा के रियासतदार स्व कुंवर मानधाता सिंह ने निभाई थी।

bipin rawat

राजा सिंह ने बताया कि उनकी बुआ प्रतिभा सिंह की शादी उत्तराखंड के बंजारा स्टेट में हुई थी। वह देहरादून में रहती थीं। बुआ प्रतिभा सिंह के ससुराल पक्ष की तरफ से ही जनरल बिपिन रावत का रिश्ता था। यहीं से सबसे पहले उनके पिता स्व कुंवर मानधाता सिंह का परिचय जनरल बिपिन रावत से हुआ था।

general bipin

खैरहा के राजा सिंह ने बताया कि उनके पिता कुंवर मानधाता सिंह और कुंवर मृगेंद्र सिंह परिवार के रिश्ते में भाई-भाई लगते थे। दोनों के बीच संबंध इतने मधुर थे कि ये आपस में सगे भाइयों की तरह रहते थे। अपनी बेटी मधुलिका सिंह के लिए रिश्ता देखने की जिम्मेदारी कुंवर मृगेंद्र सिंह ने खैरहा के कुंवर मानधाता सिंह को सौंपी थी। जिम्मेदारी को पूरा करने के लिए कुंवर मानधाता लगातार मधुलिका के लिए लड़के देख रहे थे तभी उनकी बहन प्रतिभा सिंह ने अपने ससुराल पक्ष के रिश्तेदार बिपिन रावत के बारे में जानकारी दी। तब बिपिन रावत सेना में कैप्टन हुआ करते थे।

pratibha singh

जनरल बिपिन रावत के पिता भी उस समय सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर थे। उनके परिवार की सादगी और तब कैप्टन रहे बिपिन रावत का सामान्य व्यवहार देखकर वे सबको एक नजर में ही सबको पसंद आ गए थे। खैरहा के कुंवर मानधाता सिंह के कहने पर मृगेंद्र सिंह ने एक बार में ही अपनी बेटी मधुलिका का रिश्ता बिपिन रावत के साथ तय कर दिया था।

bipin rawat

सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत का ग्वालियर से गहरा नाता रहा है। मधुलिका रावत साल 1976 से 1982 तक सिंधिया कन्या विद्यालय की छात्रा रही हैं। पासआउट होने के बाद वे साल 2018 में अपने पति सीडीएस जनरल बिपिन रावत के साथ स्कूल आई थीं। तब सीडीएस जनरल बिपिन रावत सेना अध्यक्ष बने थे। उन्होंने स्कूल की छात्राओं से संवाद कर उन्हें मोटिवेट किया था। सिंधिया कन्या विद्यालय की प्राचार्य निशि मिश्रा ने बताया कि मुलाकात के दौरान यह कतई महसूस नहीं हुआ कि छात्राओं से सेना अध्यक्ष चर्चा कर रहे हैं।

Facebook Comments Box