गब्बर सिंह को 14 साल की एक लड़की से प्यार हो गया और उसने कहा, “जल्दी बड़ी हो जाओ, मैं तुमसे शादी करूंगा।

Copy

हिंदी सिनेमा की सबसे हिट फिल्म शोले में गब्बर का रोल निभाने वाले अमजद खान को कौन नहीं जानता. एक समय था जब मैं अपने बेटों को यह कहती थी कि बेटा सो जा वरना गब्बर आ जाएगा. गब्बर के नाम का खौफ बच्चों में उस समय काफी ज्यादा देखने को मिलता था. शोले फिल्म रिलीज हुई थी उस समय यह फिल्म काफी ज्यादा हिट हुई थी. फिल्म को देखने के लिए लोग लंबी लाइन लगाकर टिकट लेते थे.

आज हम आपको शोले फिल्म के विलेन अमजद खान के बारे में कुछ खास बात बताने वाले हैं. अमजद खान की लव स्टोरी और उनकी जिंदगी से जुड़े कुछ खास किस्से बताने जा रहे हैं जो बहुत कम लोग जानते हैं।

अमजद खान का जन्म 12 नवंबर 1940 को पेशावर में हुआ था। अमजद खान को अभिनय विरासत में मिला है। अमजद ने अभिनय की दुनिया में भी कदम रखा। उन्होंने ‘शोले’ के अलावा ‘लावारिस’, ‘हीरालाल-पन्नालाल’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’, ‘परवरिश’ जैसी बड़ी फिल्मों में काम किया।

उन्होंने 1972 में शेहला खान से शादी की थी। कहा जाता है कि शेहला और अमजद खान की पहली मुलाकात तब हुई थी जब वह महज 14 साल की थीं और इसी बीच दोनों एक क्लब में खेलने आ रहे थे।

शेहला और अमजद मुंबई के बांद्रा में पड़ोसी थे। शेहला केवल 14 साल की थी जब अमजद खान कॉलेज में पढ़ रहे थे। इस बीच अभिनेता को उससे प्यार हो गया। एक दिन बैडमिंटन खेलते समय शेहला और अमजद मिले। इसी बीच अमजद ने शेहला से पूछा कि आपकी उम्र क्या है तो उन्होंने कहा 14 साल। तब अमजद ने कहा कि तुम जल्दी बड़ी हो जाओ, मैं तुमसे शादी करना चाहता हूं।

एक इंटरव्यू में अमजद खान ने बताया था कि जब उन्होंने साहिला के घर शादी का प्रस्ताव भेजा तो उस समय के घरवालों ने ठुकरा दिया कि वह भी बहुत ज्यादा छोटे हैं. इस जोड़े ने 1972 में शादी कर ली और एक साल बाद 1973 में, दंपति का एक बेटा शादाब हुआ।

लोग कहते हैं कि अमजद खान शोले में जितने बड़े विलेन बने थे असल जिंदगी में उतने ही अच्छे इंसान हैं और एक दयावान इंसान हैं.

Facebook Comments Box