साल में दो बार विक्रम बत्रा के पिता को कॉल करती है डिंपल चीमा, जानिए कैसे विक्रम बत्रा के यादों के सहारे गुजार रही है डिंपल अपनी जिंदगी

विक्रम बत्रा के जिंदगी पर आधारित एक फिल्म शेरशाह हाल ही में रिलीज की गई,आपको बता दें कि इस फ़िल्म में देश सेवा के साथ-साथ एक सच्ची प्रेम कहानी दिखाई गई थी. लोगों ने इस फिल्म में विक्रम बत्रा की जीवनी के साथ-साथ उनकी प्रेम कहानी को भी काफी ज्यादा पसंद किया.

विक्रम बत्रा की प्रेम कहानी जो एक मोटिवेशन है उन युवाओं के लिए जो किसी को प्रेम करते हैं. फिल्म शेरशाह में विक्रम बत्रा का किरदार सिद्धार्थ मल्होत्रा ने निभाया था और उनकी प्रेमिका डिंपल चीमा का किरदार क्यारा आडवाणी ने निभाया था. आपको बता दें कि विक्रम बत्रा के शहीद होने के बाद उनकी प्रेमिका डिंपल आजीवन उनकी अमानत की तरह बिना शादी के रह गई. सिंपल उन तमाम युवाओं के लिए एक मिसाल पेश करें कि है जो किसी से प्रेम करते हैं.

कैप्टन विक्रम बत्रा की गर्लफ्रेंड को लेकर विक्रम बत्रा के पिता ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। विक्रम बत्रा के पिता ने एक इंटरव्यू में बताया कि डिंपल चीमा उन्हें साल में दो बार जरूर फोन करती है। बता दें कि डिंपल सीमा कैप्टन विक्रम बत्रा की मंगेतर थी और उनके शहीद होने के बाद उसने कभी भी शादी नहीं की, वह आज तक कुंवारी है। डिंपल सीमा को उसके परिवार वालों ने कई बार शादी करने के लिए कहा परंतु उसने यह कह कर के इनकार कर दिया कि वह केवल कैप्टन विक्रम बत्रा की अमानत है।

कैप्टन विक्रम बत्रा के पिता गिरधरलाल बत्रा ने एक चैनल को दिए हुए इंटरव्यू में बताया कि विक्रम बत्रा की गर्लफ्रेंड डिंपल चीमा साल में एक बार विक्रम बत्रा की मां यानी कमलकांत बत्रा के जन्मदिन पर फोन करती है और दूसरी बार स्वयं गिरधर लाल बत्रा के जन्मदिन पर फोन करके उनका हाल-चाल पूछती है। कैप्टन विक्रम बत्रा के परिवार वालों ने भी डिंपल चीमा को कई बार शादी कर लेने के लिए मनाया परंतु डिंपल सीमा नहीं मानी और कहने लगी कि वह कैप्टन विक्रम बत्रा की यादों के साथ ही आजीवन ऐसे ही रहना चाहती है।

कैप्टन विक्रम बत्रा जम्मू कश्मीर राइफल्स रेजीमेंट की 13वीं बटालियन में तैनात थे। 1997 में हुए युद्ध के दौरान बहादुरी से लड़ते हुए उन्होंने देश के लिए अपनी जान दे दी। इसी युद्ध के दौरान बतौर कैप्टन उनकी पदोन्नति हुई थी। कैप्टन विक्रम बत्रा और उनकी डिंपल चीमा दोनों का प्रेम इतना इतना था कि कैप्टन विक्रम बत्रा जब शादी करने के पहले ही शहीद हो गए तब उनकी मंगेतर ने आजीवन अविवाहित ही रहने का निर्णय लिया और उन्होंने कभी शादी नहीं की।

Facebook Comments Box