Health

भारत में ठीक हुई कोरोना की पहली मरीज,जानिये कैसा था उसका अनुभव

Advertisement

इन दिनों अगर सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है तो वह है कोरोनावायरस की, कोरोना दुनिया भर में एक चीज है जिसने लोगों को बड़ा ही परेशान कर रखा. जिस तरह से कोरोना के मरीजा दुनिया भर मे मिल रहे है. उससे लोगों के बीच डर बढ़ता जा रहा है और चिंता का विषय बन रहा है। अब तक भारत में कुल 34 मामले सामने आए हैं, जिसमें से एक केरल के त्रिशूल की रहने वाली लड़की अर्चना की है. अर्चना चीन के वुहान शहर में ही थी और तब वहां कोरोना फैल गया था.

उस वक्त अर्चना को जैसे ही यह सब पता चला तो वह तुरंत भारत की फ्लाइट ली और महंगे दाम होने के बावजूद तुरंत इंडिया लौट आई.
भारत आने के बाद उसे सब कुछ पता नहीं चला लेकिन कुछ दिनों बाद खांसी, जुकाम और ब्रीथिंग प्रॉब्लम होने लगी. अर्चना ने जाकर मेडिकल चेकअप करवाया उस वक्त उसे कोरोना पॉजिटिव नही निकला तो सब घबरा गए.

यह भी पढ़ें-  ड्रग्स केस: जब NCB के सवालों से दीपिका पादुकोण की आंखों में आए आंसू

मां जोर-जोर से रोने लगी लेकिन डाक्टर ने उसे ढांढस बंधाया और कहा कि वह उसे ठीक करेंगे.उसे आइसोलेशन वार्ड में रखा गया जहां वह बंद ही रहती थी और वहीं पर इलाज चलता रहा इस दौरान अर्चना की तबीयत बिगड़ती और ठीक होती रही. अंदर की रोग प्रतिरोधक लगातार लड़ने का प्रयास कर रहे थी, फिर वो धीरे-धीरे ठीक होने लगी और इस दौरान वह बताती हैं उसने जमकर बिरयानी खाई क्योंकि वह उसे खूब पसंद करती थी।

आज अब पूरी तरह से ठीक है और उसे दो-तीन दिन के बाद घर जाने की छुट्टी मिल गई, लेकिन अभी भी उसको सलाह दी गई है कि वह घर में ही रहे और लोगों से ज्यादा कांटेक्ट मे ना आए, कुछ महीने उसे पूरी तरह से पहले जैसा होने में लगेगा। अर्चना जैसे ही हजार कहानियां दुनिया भर में है लोग स्वस्थ हो रहे हैं और उसका कोई खास टीका अब तक नहीं है लेकिन जो लोग अंदर से मजबूत और इम्यून सिस्टम वाले हैं. वह उससे निजात पा रहे हैं, कोरोना वायरस से बचने के लिए आपको अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देना होगा और अपनी दिनचर्या में साफ सफाई को तवज्जो देना होगा।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग न्यूज़

To Top