Loading...
Science & Technology

विक्रम लैंडर की जांच की रिपोर्ट के बाद होगा अगला प्लान

Loading...

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो के चेयरमैन डॉ के सिवन ने कहा है कि चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर बेहतरीन काम कर रहा है. उसके सारे पेलोड (यंत्र) सही तरीके से काम कर रहे हैं. ऑर्बिटर ने चांद की सतह को लेकर प्रयोग करने शुरू कर दिए हैं. हमें लैंडर से कोई -सिग्नल नहीं मिला है. लेकिन हमारा ऑर्बिटर चांद के चारों तरफ चक्कर लगाते हुए उम्दा प्रदर्शन कर रहा है.

इसरो की निगाह चंद्रयान-2 के लैंडर से आखिरी क्षणों में संपर्क भले टूट गया था, लेकिन इसरो
के हौसले बुलंद हैं. इसरो प्रमुख के सिवन ने कहा है कि अंतरिक्ष एजेंसी 2022 से पहले गगनयान अभियान को सफल बनाने में जुटी है.

यह भारत का पहला मानव अभियान होगा. इसके तहत तीन अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष ले जाने और उनकी सुरक्षित वापसी सुनिश्चित की जाएगी. सिवन यहां इंडियन सोसायटी ऑफ सिस्टम्स फॉर साइंस एंड इंजीनियरिंग (आईएसएसई) द्वारा आयोजित कांफ्रेंस में हिस्सा लेने पहुंचे थे.

You May Like

Loading...

Most Popular

Loading...
Loading...
To Top