चाणक्य नीति : जिन महिलाओं की होती है यह अंग बड़े, वो होती है एक नंबर कि ……

भारतीय संस्कृति में महिलाओं को पूजनीय माना जाता है. हमारे देश में महिलाओं का स्थान देवी के जैसा होता है और उन्हें घर की लक्ष्मी भी कहा जाता है.वैदिक व्यवस्था में धन का विभाग लक्ष्मीजी, विद्या का विभाग माता सरस्वती और शक्ति का विभाग माता महाकाली को दिया गया है. अगर हम बात करें गरुड़ पुराण,पुराण और सामुद्रिक शास्त्र की तो इन सब में महिलाओं के अंगों के बारे में विस्तृत रूप से प्रकाश भी डाला गया है.

aisi mahila

हर महिला में एक खासियत होती है और महिला की एक खासियत पुरुष की किस्मत बदल सकती है. जब भी कोई घर का बड़ा बुजुर्ग शादी के लिए लड़की देखने जाता है तो वह लड़की का अंग भी देखता है. आज हम आपको बताएंगे कि लड़की का कौन सा अंग पुरुष का भाग्य बदल सकता है…..

लंबे ओर बड़े बाल- शास्त्रों में लंबे बालों वाली महिलाओं को पद्मिनी का दर्जा दिया गया है अर्थात उच्च कोटि की स्त्री का दर्जा दिया गया है. लंबे बाल वाली लड़की को शुभ माना जाता है.

लम्बी गर्दन-

लंबी गर्दन वाली महिलाओं को मंगलकारी माना गया है.जिन महिलाओं की गर्दन लम्बी होती है, वे ऐश्वर्यशालिनी होती हैं.

ऊंचा वक्ष स्थल-

सामुद्रिक शास्त्र और भविष्य पुराण में लिखा है कि ऊंचे, सुडौल व बड़े वक्ष स्थल वाली स्त्रियां सौभाग्यशालिनी होती हैं. इनके सुडौल वक्ष स्थल धन, समृद्धि व सौभाग्य के प्रतीक हैं.

मांसल और पुष्ट जंघाएं-

मांसल और पुष्ट जंगाएं सौभाग्य प्रतीक हैं. सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार जिन महिलाओं की जंघाएं पुष्ट और मांसल होती हैं, वह वैभवशाली होती हैं. इनके कारण ही पति को मकान और वाहन आदि का सुख बेहतर ढंग से प्राप्त होता है.

Facebook Comments Box