BJP सांसद रवि किशन ने कहा- मोदी पसीने से नहाते हैं, पलटवार करते हुए लालू यादव की बेटी ने कहा- जो किसानों को कुचलते हैं वही ऐसी बात करते हैं

Copy

गोरखपुर से सांसद और चर्चित भोजपुरी अभिनेता रवि किशन का एक वीडियो सोशल मीडिया पर इन दिनों खूब वायरल हो रहा है। दरअसल इस वीडियो में रवि किशन रॉयल्टी का एक मुद्दा उठाते हुए पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ में कह रहे हैं कि वह पसीने से नहाते हैं। अब इसी वीडियो पर आरजेडी नेता लालू प्रसाद यादव की बेटी रोहिणी आचार्य ने पलटवार किया है।

मालूम हो कि रवि किशन ने संसद में चल रहे शीतकालीन सत्र के दौरान कहा, “आज मैं पूरी फिल्म इंडस्ट्री की ओर से आया एक संदेशा प्रधानमंत्री जी को दे रहा हूँ। सन्देश यह है कि जो लोग नहाते हैं पानी से वो लिबास बदलते हैं। हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री जी पसीने से नहाते हैं और वो इतिहास बदलते हैं।” उनके इसी वीडियो पर रोहिणी आचार्य ने पलटवार करते हे लिखा कि किसानों को कुचल कर जो जश्न मनाया करते हैं, पसीने से इतिहास बदलने की वहीं बातें किया करते हैं।

वैसे सोशल मीडिया पर यूजर्स ने अपनी प्रतिक्रिया इस वायरल हुए वीडिओ पर देते हुए- अमन सिंह चिन्ना (@manaman_chhina) नाम के एक टि्वटर हैंडल से लिखा गया कि मोदी जी को ऐसे ही हीरो की जरूरत है। सुरेंद्र पाठक (@pathak_repoter) नाम के ट्विटर अकाउंट से कमेंट आया, “जिस देश की संसद में देश मे बढ़ रही महंगाई, बेरोजगारी, आतंकवाद, किसान आत्महत्या, बलात्कार व देश की सुरक्षा के बजाय प्रधानमंत्री के नहाने पर चर्चा हो, वह देश विश्व गुरु बनने का दावा कर रहा है।”

Ravi Kishan and Rohani Yadav - लालू यादव की बेटी रोहिणी ने शेयर किया यूपी के रवि किशन का वीडियो
Ravi Kishan and Rohani Yadav

वसीम अहमद नाम के यूजर ने हंसने वाली इमोजी के साथ लिखा – कुछ ज्यादा ही हो गया। राजीव निगम (@apnarajeevnigam) नाम की यूजर लिखते हैं, “समस्त इंडस्ट्री इतनी दो रूपये की घटिया शायरी नहीं कर सकती रवि किशन.. आपकी मज़बूरी समझ सकता हूं।” अनुरंजन (@anuranja56) नाम के ट्विटर यूजर ने कमेंट किया कि जहां खड़े हो कर ये जनाब शेरो शायरी कर रहे हैं, मुझे लगा वहां काम की बात होती है।

अभिषेक यादव (@yaduvanshiAbhi7) नाम के यूजर लिखते हैं कि ये AC मैं बैठने वालों को पसीना कब से आने लगा? कैलाश नाथ यादव (@kailasnathsp) नाम के ट्विटर हैंडल से कमेंट आया कि संसद में हीरोगिरी के अलावा जनता की बात भी किया करो। चंचल (@r_anchl) नाम की ट्विटर यूजर लिखती हैं, ” हे भगवान…. इन जैसे नेताओं को संसद में भेजा तो भेजा… ‘भेजा’ देकर क्यों नहीं भेजा? वीरेंद्र कुमार(@virendra_kumar77) राम जी गुर्जर लिखते हैं कि ये महोदय केवल पीएम साहब की तारीफ करने के लिए सांसद बने हैं?

Facebook Comments Box