थिएटर कमांड : वो प्लान जो रह गया अधूरा बिपिन रावत का, अमेरिका-रूस-चीन जैसी ही बनाना चाहते थे भारतीय सेना को…

Copy

देश इस वक़्त दुखद घटना से गुज़र रहा है, देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत (CDS General Bipin Rawat) का निधन हो गया। मालूम हो कि जनरल बिपिन रावत का कल यानि कि बीतें बुधवार को हेलिकॉप्टर हादसे (Helicopter Crash) में निधन हो गया है। बिपिन रावत वायुसेना के Mi-17V5 हेलिकॉप्टर पर सवार थे, जो कुन्नूर के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस दुखद हादसे में बिपिन रावत की पत्नी मधुलिका और 12 अन्य लोगों की भी जान चली गई।  

CDS General Bipin Rawat कुछ समय से थिएटर कमांड पर काम कर रहे थे। इस कमांड का मकसद तीनों सेनाओं को एक छत के नीचे लाना था, ताकि युद्ध की स्थिति में तीनों सेनाओं के संसाधनों का सही इस्तेमाल हो सके। कुछ समय पहले एक न्यूज़ चैनल को दिए अपने इंटरव्यू में जनरल बिपिन रावत ने कहा था कि 2022 तक थिएटर कमांड बनाने का काम हो जाएगा।

Indian army

मालूम हो कि जनरल बिपिन रावत सेना में बदलाव लाने के लिए जाने जाते थे। 31 दिसंबर, 2019 को जब उन्होंने देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ का पद संभाला तो उनका सबसे बड़ा काम तीनों सेनाओं में तालमेल बिठाने का था। इसके साथ ही तीन साल के भीतर उन्हें सेनाओं का पुनर्गठन कर ‘थिएटर कमांड’ बनाने की जिम्मेदारी भी सौंपी गई थी। 

देश में अभी तीनों सेनाओं के अलग-अलग 17 कमांड्स हैं। सात थल सेना के पास, सात वायुसेना के पास और तीन नौसेना के पास। इसके अलावा एक स्ट्रैटेजिक फोर्सेज कमांड है जो परमाणु शस्त्रागार को सुरक्षा देता है और उसे संभालता है। इसकी स्थापना वर्ष 2003 में की गई थी। इनके अलावा देश में सिर्फ एक थिएटर कमांड है। इसकी स्थापना वर्ष 2001 में अंडमान निकोबार में की गई थी।

CDS General Bipin Rawat

अमेरिका में अभी कुल मिलाकर 11 थिएटर कमांड्स हैं। इनमें से 6 पूरी दुनिया को कवर करते हैं।वहीं, चीन के पास भी 5 थिएटर कमांड्स हैं। चीन भारत को अपने पश्चिमी थिएटर कमांड के जरिए हैंडल करता है। इसी कमांड से वो भारत चीन सीमा पर निगरानी रखवाता है। रूस के पास भी 4 थिएटर कमांड्स हैं।

कहा जा रहा है कि बिपिन रावत 4 थिएटर कमांड पर काम कर रहे थे। बिपिन रावत चीन और पाकिस्तान की हरकतों पर नजर लिए ये थिएटर कमांड बनाना चाहते थे। जून 2021 में नब्ज़ चैनल को दिए इंटरव्यू में जनरल बिपिन रावत ने कहा था कि भारत 2022 तक थिएटर कमांड बना लेगा। उन्होंने कहा था, ‘हमारी समुद्री सीमाएं बहुत बड़ी हैं। जम्मू-कश्मीर और एलएसी की सीमाएं अनसुलझी हैं.इसलिए हमने लैंड बेस्ड कमांड तैयार किया है। पूर्वी और पश्चिमी थिएटर पर ध्यान दिया जाएगा।’

Facebook Comments Box