बड़ा खुलासा! Omicron को रोकने में तमाम वैक्सीन फेल, केवल ये 2 हैं कारगर

Copy

कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ जहां एक ओर दुनियाभर के देश जल्दी से जल्दी अपने नागरिकों को वैक्सीन देने के लिए अभियान चला रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ रिसर्च में सामने आया है कि ज्यादातर वैक्सीन Omicron के खिलाफ कारगर ही नहीं हैं। वहीं मालूम हो कि अभी तक भारत में वैक्सीनेशन का कार्य पूरा भी नहीं हो पाया है।

बड़ा खुलासा! Omicron को रोकने में तमाम वैक्सीन फेल, केवल ये 2 हैं कारगर
omicron

जानकारी हो कि कोरोना वायरस का नया वैरिएंट Omicron पूरी दुनिया के लिए नई मुसीबत बन कर सामने खड़ा हो गया है। अब तक हो रहे शुरुआती रिसर्च के मुताबिक Omicron पर भारत में बनी Covishield समेत तमाम वैक्सीन (Vaccine) कारगर नहीं हैं। वहीं, द न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, Omicron से संक्रमित होने पर vaccine ज्यादा बीमार होने से तो बचा रही है पर इसके संक्रमण को रोकने में पूरी तरह से विफल है।

मिली जानकारी के अनुसार रिसर्च में केवल Pfizer और Moderna वैक्सीन के लिए हरी झंडी मिली है। Pfizer और Moderna वैक्सीन को बूस्टर शॉट से लगाने के बाद Omicron को रोकने में शुरुआती तौर पर सफलता मिलती हुई दिखाई दे रही है।

शुरुआती जांच के अनुसार AstraZeneca, Johnson & Johnson समेत चीन और रूस में निर्मित वैक्सीन भी Omicron को रोकने में सक्षम नहीं हैं। उस पर मुसीबत ये है कि अभी दुनियाभर में बड़ी संख्या में लोगों को वैक्सीन लगी भी नहीं है। ऐसे में संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ना कमजोर इम्युनिटी वालों के लिए बड़ा खतरा है। टीकाकरण पूरा ना होने की वजह से और नए वैरिएंट पैदा होने का खतरा भी है। मालूम हो कि Pfizer और Moderna वैक्सीन को बनाने में mRNA टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है, जो सभी प्रकार के संक्रमण और वैरिएंट से सुरक्षा करता है जबकि बाकी वैक्सीन पुरानी तकनीक पर आधारित हैं।

रिसर्च में मिली जानकारी के अनुसार Oxford-AstraZeneca की वैक्सीन भी कोरोना के नए वैरिएंट Omicron के खिलाफ कारगर नहीं हैं। स्टडी में Covishield वैक्सीन ने टीकाकरण के 6 महीने बाद Omicron को रोकने की क्षमता नहीं दिखाई दे रही है। चिंता की बात ये है कि भारत में करीब 90 फीसदी लोगों ने Covishield वैक्सीन की डोज ली है।

Facebook Comments Box