भुबन बड्याकर ने पहले कहा था ‘मैं सेलिब्रिटी हूं’, अब माफी मांगकर बोले- फिर से बेचूंगा बादाम

हाल ही में भुबन का एक्सीडेंट हुआ था। उसने एक कार खरीदी थी, जिसे वह चलाना सीख रहा था। तभी उनकी कार का एक्सीडेंट हो गया। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। फ़िलहाल, अब वह पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं।

bhuban badyakar earlier said i am celebrity
bhuvan badyakar

‘कच्चा बादाम’ गाना गाकर रातों-रात इंटरनेट पर छाने वाले भुबन बड्याकर इन दिनों फिर से चर्चाओं में हैं. हाल ही में उन्होंने एक बयान में कहा था कि वह अब सुपरस्टार बन गए हैं, इसलिए अब बादाम नहीं होंगे। पर, अब उन्होंने अपने बयान के लिए माफी मांग ली है और कहा है कि वह फिर से बादाम बेचेंगे।

भुवन ने अपने पुराने बयां पर मांगी माफी

दें कि हाल ही में भुवनेश्वर का एक्सीडेंट हुआ था। उसने एक कार खरीदी थी, जिसे वह चलाना सीख रहा था। तभी उनकी कार का एक्सीडेंट हो गया। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि, अब वह पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। उनका एक नया गाना भी आ रहा है, इस गाने की रिकॉर्डिंग पश्चिम बंगाल के बोलपुर में ट्वाइलाइट स्टूडियो में की गई है. जिसमें वह अपने हादसे की कहानी दुनिया के सामने ला रहे हैं।

इसे भी पढ़ें..  Nexon और Brezza का अब क्या होगा, Hyundai ला रही ये SUV, मिलेगा पावरफुल डीजल इंजन

भुबन को बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली के टेलीविजन शो ‘दादागिरी’ में भी आमंत्रित किया गया था। जहां उन्हें सम्मानित भी किया गया है. हाल ही में वह लोगों के निशाने पर आ गए थे जब उन्होंने कहा था कि वह अब सेलिब्रिटी हो गए हैं, इसलिए वह कच्चे बादाम नहीं बेचेंगे। उन्होंने अब इस बयान के लिए माफी मांगी है. उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं पता कि सेलिब्रिटीज के साथ क्या होता है।

जरूरत पड़ने पर बेचेंगे बादाम

भुबन ने कहा कि जरूरत पड़ने पर वह फिर से कच्चे बादाम बेचेंगे। भुबन ने कहा कि उन्हें सेलिब्रिटी का मतलब समझ में नहीं आया। आज सब मेरे साथ हैं। जिस दिन लोग अपनी जान छोड़ देंगे और उन्हें उनकी जरूरत होगी, वे फिर बादाम बेचेंगे। भुबन ने बताया कि उन्होंने अपने बेटे के लिए सेकेंड हैंड कार खरीदी थी। ताकि उनका बेटा कार चलाकर जीविकोपार्जन कर सके। हालांकि सीखने के दौरान कार दीवार से टकरा गई, जिससे वह हादसे का शिकार हो गया।

इसे भी पढ़ें..  मुंबई से दूर पैतृक गांव पहुंचे अभिनेता पंकज त्रिपाठी, कहा- जिस स्कूल में पढ़ा, उसे संवारने आया हूं