तलाक होने बाद भी अरवाज बनाना चाहते थे मलाइका से सम्बन्ध, खुद किया खुलासा

Copy

हिन्दी फिल्म जगत में शादियों और तलाक का कुछ अलग ही रिश्ता है। बॉलीवुड की दुनिया में कुछ ऐसी शादियां है जो अनेकों वर्ष चलने के बावजूद भी समाप्त हो गई। वहीं कुछ सितारे ऐसे भी हैं जिनके तलाक होने के बाद भी अपने अपने पार्टनर का ख्याल अच्छे से रखते हैं, इन्ही रिश्तों में से एक है मलाइका और अरबाज खान का रिश्ता। आपकी जानकारी के लिए हम बता दे मलाइका अरोड़ा और सलमान के बड़े भाई अरबाज खान का रिश्ता भी उन्हीं रिश्तों में से एक है। बीते 2016 में दोनों ने तलाक लेने का निर्णय लिया हालांकि इस फैसले को सुन सभी हैरान और आश्चर्यचकित हो गए थे।

दोनों के तलाकनामे की अर्जी को न्यायालय से साल 2017 में आधिकारिक तौर पर मंजूरी मिली, जिसके बाद दोनों के जीवन के रास्ते अलग-अलग मोड़ पर हो गए परंतु तलाक के बाद भी दोनों कलाकारों एक दूसरे के परिवार का वो हिस्सा बने रहे।

'पहली शादी नहीं चली दोबारा करने का क्या फायदा' मलाइका अरोड़ा के साथ तलाक पर  अरबाज खान ने बयां किया अपना दर्द, एक वजह ने किया सोचने पर मजबूर

तलाक होने के बाद भी दोनों एक दूसरे के, एक दूसरे के परिवार के सुख दुख का हिस्सा दोनों साथ बने रहते हैं और अपने बेटे का पालन पोषण, और देखभाल भी इसलिए दोनों साथ में कर रहे हैं जिससे उसे अपने माता-पिता दोनों का प्यार मिले, उसे किन्हीं की भी कमी का एहसान न हो।

यही वजह है कि सलमान खान के बड़े भाई ऐक्टर अरबाज खान ने अलग होने के बावजूद भी कभी भी अपने बेटे अरहान की निगरानी (कस्टडी) मलाइका को देने पर एक उंगली भी नहीं उठाया। तलाक के एक रात पहले अरबाज के पिता सलीम खान ने अपनी बहु मलाइका अरोड़ा से कहा, “तलाक का मतलब यह नहीं कि आप दुश्मन बन जाओ, तलाक पति पत्नी का हो सकता है माता पिता का नहीं।

Facebook Comments Box