अमिताभ का खुला पोल पहले ऐड कर पैसा कमाया फिर दिखावा करने के लिया किया कांट्रैक्ट रद्द

Copy

बॉलीवुड में अमिताभ बच्चन किसी पहचान के मोहताज नहीं है उन्हें बॉलीवुड के साथ-साथ पूरे दुनिया में लोग जानते हैं. अमिताभ बच्चन संरक्षक की भूमिका आना चाहते हैं लेकिन अभी वह बस ढोंगी बन के रह गए हैं. अभी-अभी अमिताभ बच्चन के सामने आया सबसे पहले कमला पसंद का विज्ञापन दिया और खूब पैसे कमाए और उसके बाद उन्होंने विज्ञापन से नाता तोड़ पैसे वापस कर दिया.

अमिताभ ने छोड़ा कमला पसंद-
अभी कुछ समय पहले ही अमिताभ बच्चन का जन्मदिन था, उन्होंने अपने जन्मदिन के अवसर पर एक ब्लॉग लिखकर कमला पसंद के विज्ञापन को छोड़ने का ऐलान किया.उन्होंने कहा मुझे इसके बारे मे पूरी तरह पता नहीं था.अमिताभ बच्चन ने लिखा, “मैंने पान मसाला ब्रांड कमला पसंद के साथ अनुबंध समाप्त कर दिया है, फीस वापस लौटा दीया है ” उन्होंने यह भी कहा कि मुझे इस बात की जानकारी नहीं थी कि यह सरोगेट विज्ञापन के अंतर्गत आता है.

इतने अनभिज्ञ कबसे हो गए बच्चन साहब-
वैसे तो अमिताभ बच्चन यह दिखावा कर रहे है की उन्होंने यह फैसला समाज को बदलने के लिए लिया है लेकिन दूसरे तरफ एक फोटो मे वह कमला पसंद खाते नजर आ रहे है. अमिताभ बच्चन के गाने बिना पढ़े कमला पसंद के विज्ञापन को साइन कर दिया था. लेकिन यह सोचने वाली बात है कि क्या बिना पढ़े कोई भी एक्टर एक्ट्रेस किसी भी विज्ञापन के एडवरटाइजिंग के लिए साइन कर सकता है. उनके यह बयान के बाद लोग उनका आलोचना कर रहे है.

आलोचकों ने की थी धुलाई-

सोशल मीडिया पर अमिताभ बच्चन का खूब आलोचना हो रहा है और लोग उनका खूब मजाक उड़ा रहे है.लोग उन्हें दो-मुहा इन्सान तक कहना शुरु किया था, जो दोहरी जिन्दगी जीते हुए पैसे के लिए तंबाकू और पान मसाले का विज्ञापन तक करने को तैयार हैं।

पैसा कमाने के बाद त्याग का दिखावा-

अमिताभ बच्चन हमेशा पैसा के लिए कोई भी ऐड करने को तैयार हो जाते हैं और अभी उन्होंने इस ऐड से कॉन्ट्रैक्ट तोड़कर बस दिखावा किया है. कमला पसंद के विज्ञापन से कॉन्ट्रैक्ट तोड़कर यह साबित किया कि मैं समाज का भला चाहता हु लेकिन यह सिर्फ एक दिखावा है.

पूरे देश में पान मसाला बैन है फिर भी बॉलीवुड के एक्टर एक्ट्रेस द्वारा इसका विज्ञापन दिया जाता है इसका मतलब साफ है कि पैसे के लिए बॉलीवुड के एक्टर और एक्ट्रेस कुछ भी कर सकते हैं.

अमिताभ बच्चन का यह चेहरा अभी सामने नहीं आया बल्कि कई बार उन्होंने अपने दो मुंहे रवैया को दिखाया है.वह खुद को एक उच्च सोच वाला नागरिक बताने की कोशिश करते हैं, लेकिन जब किसी मुद्दे पर एक स्टैंड लेने की बात सामने आती है तो वो चुप्पी साध के कोप भवन में चले जाते हैं। CAA NRC के मुद्दे से लेकर जया बच्चन के कई तरह के कारनामे हर जगह अमिताभ बच्चन अपना मुंह बंद कर लेते हैं.

Facebook Comments Box