IT रेड पर अखिलेश यादव आगबबूला, कहा- कन्नौज के इत्र से इंकलाब होगा, 22 में बदलाव होगा

Copy

आयकर विभाग ने आज देशभर में 50 जगहों पर छापेमारी कि है। समाजवादी पार्टी के एमएलसी और इत्र का कारोबार करने वाले पुष्पराज जैन पम्पी के ठिकाने पर भी आयकर विभाग की टीम ने रेड मारी।टीम की करवाई कन्नौज, कानपुर, दिल्ली-एनसीआर, मुंबई और सूरत समेत कई जगहों पर जारी है। पर समाजवादी पार्टी इस करवाई की वजह से नाराज़ नजर आ रही है। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव आज इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन पम्पी के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले थे। लेकिन इससे पहले की इनकम टैक्स की रेड पर गई जिसके बाद अखिलेश यादव ने अकेले ही कनौज पहुंच कर प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी पर तो आयकर के छापे पड़ने तय थे। दिल्ली के नेता जब यूपी आते हैं तो लगता है मानो वो एजेंसी को साथ लेकर ही आते हैं। इसी दौरान उन्हे छापेमारी के निर्देश दिए जाते हैं। उन्होंने आगे कहा कि कनौज़ खुशबू की राजधानी है। यहां परफ्यूम पार्क बनाया जाना था पर बीजेपी ने शासन में आते ही सारे काम रोक दिए। अगर बीजेपी नहीं होती तो कनौज का नाम आज पूरे देश में होता।

IT रेड पर अखिलेश यादव आगबबूला, कहा- कन्नौज के इत्र से इंकलाब होगा, 22 में बदलाव होगा

उन्होंने कहा कि बीजेपी सपा को जान बूझकर बदनाम करने की कोशिश कर रही है। आगे उन्होंने कहा कि दुख इस बात का है कि दिल्ली से लेकर लखनऊ वाले तक सबके सब कनौज़ को बदनाम करने की साज़िश में जुटे हुए हैं। उन्होंने कहा विभाग का जिसपर पहली बार छापा पड़ा उसका संबंध बीजेपी से है, तो बीजेपी बताए कि इतने बड़े पैमाने पर कैश कैसे निकाले गए। जबकि खुद बीजेपी कि सरकार ने नोटबंदी के वक़्त कहा था कि काला धन जमा करके कोई भी नहीं रख सकता।

अखिलेश यादव ने कहा कि इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन के ठिकानों पर उन्होंने इसलिए छापेमारी की है क्यूंकि जहां जहां बीजेपी हारने लगती है वहां वहां छापे पड़ने लगते हैं। जिस दिन गाजीपुर से शुरू हुई समाजवादी पार्टी की यात्रा लखनऊ पहुंची। दिल्ली से तीनों काले कृषि कानून वापस हो गए। ऐसे में साफ है कि जनता ने बीजेपी का सफाया करने का मन बना लिया है। बीजेपी ने आयकर विभाग से बी गठबंधन किया है।

आगे सपा अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी के डिजिटल इंडिया की सबसे बड़ी नाकामी है कि समाजवादी इत्र बनाने वाले का पता ना लग जाए। ऐसे में उन्होंने अपने ही आदमी के घर रेड कर दिया। इस वजह से मै पूछना चाहता हूं कि कारोबारी के पास इतना सारा पैसा और सोना आखिर किस रास्ते से आया। बीजेपी का एक छोटा नेता भी यह कह रहा था कि कनौज़ का इत्र कारोबारी समाजवादी पार्टी से जुड़ा हुआ है , इस वजह से हमने छापेमारी की। ऐसे में साफ प्ता लगता है कि जुंझलाहट ने बीजेपी ने यह छापेमारी करवाई है। उन्होंने कहा कि कनौज़ की इत्र से इंकलाब होगा, 22 में बदलाव होगा।

Facebook Comments Box